चरित्र संदेह को लेकर दास्ता पत्नि की कर दी हत्या पुलिस ने किया खुलाशा पढ़िए यह खबर - Jai Bharat Express

Breaking

चरित्र संदेह को लेकर दास्ता पत्नि की कर दी हत्या पुलिस ने किया खुलाशा पढ़िए यह खबर


चरित्र संदेह को लेकर दास्ता पत्नि की पत्थर से सिर एवं चेहरे में हमला कर हत्या करने वाला आरोपी गिरफ्तार 

पुलिस ने किया खुलासा देखें वीडियो 


जबलपुर
|ग्वारीघाट थानान्तर्गत भीमनगर में  दिनॉक 6-9-21 की सुबह पप्पू गढ़ेवाल के घर में एक महिला के मृत पड़े होने की सूचना पर थाना प्रभारी ग्वारीघाट भूमेश्वरी चौहान हमराह स्टाफ के साथ पहुंची, जहॉ एक महिला मृत अवस्था मे पड़ी मिली। पूछताछ के दौरान सौरभ सोनी उम्र 20 वर्ष निवासी पुरानी बस्ती ग्वारीघाट ने बताया कि वह अपनी नानी सोना बाई के साथ किराये से रहकर मजदूरी करता है। उसकी बहन शालिनी जैन पति संजय जैन से विवाद होने के कारण नानी के पास ही रहती है। बहन शालिनी जैन ,दिनॉक 5-9-21 को शाम 4 बजे नानी से बताकर घर से निकली थी, कि संजय जैन के पास जा रही हॅॅू।

आज सुबह सूचना मिलने पर भीमनगर आया और देखा कि बहन शालिनी जैन पति संजय जैन उम्र 25 वर्ष निवासी पुरानी बस्ती ग्वारीघाट पप्पू गढ़ेवाल के मकान के कमरे मे गद्दे के उपर मृत हालत मे पड़ी थी, जिसके गले में दाये एवं बाये तरफ कंधे ,ठुड्डी, गाल, सिर में धारदार हाथियार की चोट थी, सिर के बाल, चेहरा, गला, बदन के कपड़े खून से लथपथ  है, उसकी बहन शालिनी की सिर, गले मे धारदार हथियार से हमला कर एवं पत्थर पटक कर हत्या की गयी है। उसे शंका है कि उसकी बहन की हत्या कर पप्पू गढ़ेवाल भाग गया है।  

घटित हुई घटना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया

 वरिष्ठ अधिकारियों एवं एफ.एस.एल. टीम की उपस्थति में पंचनामा कार्यवाही कर शव को पीएम हेतु भिजवाते हुये धारा 302 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर प्रकरण विवेचना में लिया गया।

आज दिनॉक 7-9-21 को पतासाजी करते हुये टीम के द्वारा संदेही भूपेन्द्र उर्फ पप्पू गढेवाल पिता भगवानदास गढेवाल,उम्र 52 वर्ष, निवासी - भीमनगर के पास ग्वारीघाट को हिरासत में लेकर सघन पूछताछ की गयी जिस पर पाया गया कि मृतिका शालिनी जैन, भूपेन्द्र गढेवाल की दासता पत्नि थी, जो बार-बार अपने मायके चली जाती थी, खाना भी नही बनाती थी। भूपेन्द्र अपनी दास्ता पत्नि पर शक करता था कि पत्नि के और भी लोगों से अनैतिक सम्बंध है, रात्रि में सोते समय दास्ता पत्नि के  सिर, एवं गले में  पत्थर से हमला कर हत्या कर दी, एवं भाग गया।  घटना स्थल से घटना में प्रयुक्त एक बड़ा एवं  एक छोटा नुकीला पत्थर जप्त करते हुये प्रकरण में विधिवत गिरफ्तार कर मान्नीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है।


 उल्लेखनीय भूमिका - थाना प्रभारी ग्वारीघाट भूमेश्वरी चौहान, उप निरीक्षक श्रीराम रघंवुशी, सहायक उप निरीक्षक. रणजीत सिंह, प्रधान आरक्षक सुरेन्द्र सेन, आरक्षक  तरुण मिश्रा,  संदीप दुबे,  मुकेश मसराम थाना ग्वारीघाट एवं क्राईम ब्रांच के सउनि. प्रमोद पांडेय, प्रधान आऱक्षक.  रामगोपाल,अजय सोनकर ,अखिलेष यादव, राममिलन, आरक्षक अमित श्रीवास्तव की सराहनीय  भूमिका रही है।