India China Tension: राफेल से घबराया चीन, लद्दाख के पास तैनात किये J-20 लड़ाकू विमान - Jai Bharat Express

Breaking

India China Tension: राफेल से घबराया चीन, लद्दाख के पास तैनात किये J-20 लड़ाकू विमान

India China Tension: राफेल से घबराये चीन ने लद्दाख से 200 मील दूर स्थित अपने होटन एयरबेस पर अपने सबसे आधुनिक चेंगदू जे-20 स्टील्थ फाइटर जेट तैनात कर दिये हैं. सेटेलाइट इमेज में चीन के होटन एयरबेस बेस पर दो जे-20 फाइटर जेट की तैनाती देखा गया है. इससे पहले इन फाइटर जेट को इस एयरबेस पर पहले नहीं देखा गया था. चीनी मीडिया में जे-20 जेट की तस्‍वीरें वायरल हो रही हैं. लद्दाख के पास जे-20 जेट की तैनाती भारत और चीन के बीच तनाव और ज्‍यादा बढ़ सकता है.
चीन के होटन एयरबेस बेस पर जे-20 फाइटर जेट की तैनाती पर चीन की स्टेट मीडिया ने कहा है कि इस मामले को इतना तूल देने की जरूरत नहीं है. चीन के राष्ट्रवादी अखबार ग्लोबल टाइम्स के एक लेख में कहा गया लंबी दूरी के जेट की तैनाती, जिसकी पुष्टि अभी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी एयरफोर्स (PLAAF) द्वारा की जा रही है, विमान की लंबी दूरी की उड़ान अभ्यास और अलग-अलग वातावरण के अनुकूल करने के लिए वॉरप्लेन के प्रोटोकॉल के हिस्से के लिए हो सकती है.
इधर, अमेरिका ने शुरू किया युद्धाभ्यास रिमपैकचीन से तनाव और कोरोना महामारी के बीच अमेरिका ने हवाई द्वीप समूह के पास दुनिया का सबसे बड़ा नौसैनिक अभ्यास रिमपैक शुरू कर दिया है. 17 से 31 अगस्त तक चलने वाले इस युद्धाभ्‍यास में 10 देशों के 20 महाविनाशक युद्धपोत और सबमरीन हिस्‍सा ले रहे हैं. इस युद्भाभ्‍यास में चीन को न्‍योता नहीं दिया गया है. आमतौर पर रिमपैक में 30 देशों के 50 युद्धपोत-सबमरीन, 200 फाइटर जेट और 25 हजार जवान हिस्‍सा लेते रहे हैं.
हालांकि, कोरोना संकट की वजह से इस बार केवल 5300 जवान ही हिस्‍सा ले रहे हैं. इस युद्धाभ्‍यास का मकसद प्रशांत महासागर में अपने दोस्‍तों के बीच एक-दूसरे पर निर्भरता और विश्‍वास को बढ़ाना है. 10 देश ले रहे हिस्साइस अभ्‍यास में ऑस्‍ट्रेलिया, ब्रुनई, कनाडा, फ्रांस, जापान, न्‍यूजीलैंड, दक्षिण कोरिया, फिलीपींस, सिंगापुर और अमेरिका हिस्‍सा ले रहे हैं.