जून माह में सूर्य ग्रहण, वट सावित्री व्रत और पड़ेंगे ये महत्वपूर्ण त्योहार - Jai Bharat Express

Breaking

जून माह में सूर्य ग्रहण, वट सावित्री व्रत और पड़ेंगे ये महत्वपूर्ण त्योहार



June 2021 Vrat And Festival List- जून मास की शुरुआत होने जा रही है. हिंदू धर्म के अनुसार ये महीना पावन और शुभ होता है. इस महीने के दूसरे दिन ही यानी कि 02 जून को कालाष्टमी मनाई जाएगी. कालाष्टमी को काला अष्टमी के नाम से भी जाना जाता है और इसे हर माह कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि के दौरान मनाया जाता है. कालभैरव के भक्त कालाष्टमी के दिन उनकी पूजा और उनके लिए उपवास करते हैं. इसके अलावा इस माह में साल का पहला सूर्यग्रहण, वट सावित्री व्रत, अपरा एकादशी जैसे कई व्रत और त्योहार पड़ रहे हैं. आइए जानते हैं इस महीने किस दिन कौन सा त्योहार पड़ेगा. हर दिन एक जैसा नहीं होता. कभी कोई दिन आपके लिए किसी शुभ समाचार की सौगात लेकर आता है तो कोई दिन कई अनपेक्षित चुनौतियां भी खड़ी कर देता है. आइए जानते हैं इस माह के त्योहारों के बारे में.

02 जून - कालाष्टमी ( इस व्रत भगवान काल भैरव की समर्पित माना जाता है. भगवान काल भैरव शिव जी का ही विग्रह रूप हैं )


06 जून - अपरा एकादशी ( इस एकादशी को भद्रकाली एकादशी और जलक्रीड़ा एकादशी के नाम से भी जाना जाता है. )


जून - सोम प्रदोष व्रत (यह व्रत भगवान शिव को समर्पित माना जाता है)


08 जून - मासिक शिवरात्रि (मासिक शिवरात्रि हर माह में पड़ती है. यह व्रत भी भगवान शिव को समर्पित माना जाता है)


10 जून - वट सावित्री व्रत, रोहिणी व्रत, अमावस्या, शनि जयंती, 2021 का पहला सूर्य ग्रहण


13 जून - महाराणा प्रताप जयंती (वीर महाराणा प्रताप की जयंती पर उनके महान कार्यों को स्मरण किया जाता है.)


14 जून - विनायक चतुर्थी (यह तिथि गणेश भगवान को समर्पित है. इस दिन भक्त व्रत रखते हैं और गणेश भगवान की पूजा अर्चना करते हैं)


20 जून - पितृ दिवस, गंगा दशहरा ( गंगा दशहरा के दिन मां गंगा की पूजा-अर्चना की जाती है)


21 जून - निर्जला एकादशी (म एकादशी भी कहते हैं. इस व्रत में भक्त सूर्योदय से अगले दिन सूर्योदय बिना खाए और बिना जल ग्रहण किए निर्जल रहकर व्रत करते हैं.)


22 जून - भौम प्रदोष ( यह व्रत भी भगवान शिव को समर्पित माना जाता है)


24 जून - ज्येष्ठ पूर्णिमा (ज्येष्ठ माह में पड़ने वाली पूर्णिमा तिथि की काफी महिमा बताई गई है. कई बार ज्येष्ठ पूर्णिमा के दिन ही कबीर जयंती और वट पूर्णिमा व्रत भी होता है. )


27 जून - संकष्टी चतुर्थी (यह तिथि गणेश भगवान को समर्पित है. इस दिन भक्त व्रत रखते हैं और गणेश भगवान की पूजा अर्चना करते हैं)