मध्यप्रदेश में न गणेश पंडाल सजेगें, न ताजिया निकलेगें - Jai Bharat Express

Breaking

मध्यप्रदेश में न गणेश पंडाल सजेगें, न ताजिया निकलेगें

जबलपुर/भोपाल. मध्यप्रदेश में कोरोना संकटकाल के चलते इस बार सार्वजनिक स्थानों पर न तो गणेश पंडाल सजेगें, न ही गणेश विसर्जन चल समारोह निकलेगा, इसी तरह ताजिया व सवारी जुलूस निकाला जाएगा. इस आशय की जानकारी एमपी के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा पत्रकारों से चर्चा में कही है. 
बताया जाता है कि कोरोना संकटकाल के चलते इस बार जबलपुर सहित प्रदेश के अन्य जिलों में कोई भी सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं किए जा रहे है, ताकि कोरोना की चैन को तोड़ा जा सके. रक्षाबंधन के बाद से अब देवउठनी ग्यारस तक त्यौहार ही त्यौहार है, त्यौहारों पर होने वाली भीड़ से संक्रमण के फैलने का खतरा हो सकता है, जिसे ध्यान में रखते हुए क ोई भी गणेश जी की प्रतिमा को सार्वजनिक स्थान पर नहीं रखेगा, न ही कोई जुलूस निकलेगा, इसके अलावा मोहर्रम में न ही ताजिया, सवारियां निकलेगी. केन्द्र की गाइड लाइन के मुताबिक 5 लोगों को ही एकत्र होने की व्यवस्था होगी. 
नहीं होगें धार्मिक कार्यक्रम, भंडारा-
गृहमंत्री श्री मिश्रा ने चर्चा के दौरान कहा कि त्यौहारों के मौके पर होने वाले धार्मिक आयोजन व भंडारे भी नही किए जाएगें, क्योंकि इस तरह के आयोजनों में भीड़भाड़ होने से संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ सकता है. 
नवरात्र पर नहीं सजेगी झांकियां- 
श्री मिश्रा ने आने वाले त्यौहार नवरात्र को लेकर भी चर्चा में कहा कि नवरात्र पर दुर्गा जी की प्रतिमा व झांकिया भी नही लगेगी, कोई भी राजनैतिक कार्यक्रम भी नही होगा, नवरात्र पर होने वाले भंडारों का आयोजन भी नहीं किया जाएगा.