धनतेरस पर इन चीजों को खरीदना होता है शुभ - Jai Bharat Express

Breaking

धनतेरस पर इन चीजों को खरीदना होता है शुभ



Dhanteras 2021: धनतेरस के दिन भगवान धन्वंतिर के अलावा भगवान कुबेर और माता लक्ष्मी की पूजा-अर्चना की जाती है. मान्यता है कि धनतेरस के दिन खरीदारी करना बहुत ही शुभ होता है. इस कारण से वर्षों से धनतेरस के मौके पर सोना-चांदी के अभूषण, बर्तन, घरों में प्रयोग की जाने वाली वस्तुएं, कार, मोटर साइकिल और जमीन-मकान के सौदे होते हैं. माना जाता है धनतेरस पर जो भी चीजें घर खरीदकार लाई जाती है उसमें सालभर तेरह गुना की बढ़ोतरी होती है और घर में सुख समृद्धि आती है. साथ ही पैसों की कमी कभी नहीं होती।


धनतेरस का पर्व दिवाली से 2 दिन पहले मनाया जाता है. हिंदू पंचांग के अनुसार कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि पर धनतेरस का त्योहार होता है. मान्यता है कि इस दिन भगवान धन्वंतरि समुद्र मंथन के दौरान सोने का घड़ा लेकर प्रकट हुए थे. धनतेरस के दिन भगवान धन्वंतिर के अलावा भगवान कुबेर और माता लक्ष्मी की पूजा-अर्चना की जाती है. मान्यता है कि धनतेरस के दिन खरीदारी करना बहुत ही शुभ होता है. इस कारण से वर्षों से धनतेरस के मौके पर सोना-चांदी के अभूषण, बर्तन, घरों में प्रयोग की जाने वाली वस्तुएं, कार, मोटर साइकिल और जमीन-मकान के सौदे होते हैं. माना जाता है धनतेरस पर जो भी चीजें घर खरीदकार लाई जाती है उसमें सालभर तेरह गुना की बढ़ोतरी होती है और घर में सुख समृद्धि आती है. साथ ही पैसों की कमी कभी नहीं होती.


धनतेरस का महत्व

धनतेरस पर लोग अपने घरों में दीपक जलाते हैं. इस दिन विशेष रूप से लोग भगवान धन्वंतरि की पूजा करते है. मान्यता है जो भी धनतेरस पर भगवान कुबेर, मां लक्ष्मी संग धन्वंतरि की पूजा करता है उसका घर हमेशा धन-धान्य, सुख-सुविधा और वैभव से भरा हुआ रहता है. धनतेरस पर ज्यादातर लोग सोने-चांदी से बनी चीजों को प्रमुखता से खरीदते हैं और इसके लिए शुभ मुहूर्त पर विचार करते हैं. धनतेरस पर शुभ मुहूर्त पर सोने चांदी से बने बर्तन या आभूषण खरीदने पर बहुत ही शुभ परिणाम प्राप्त होता हैं।

धनतेरस पर खरीदारी का शुभ मुहूर्त

आज धनतेरस का त्यौहार है. इस दिन सोना-चांदी के आभूषण खरीदने के लिए शाम 06 बजकर 20 मिनट से लेकर 08 बजकर 11 मिनट तक का समय शुभ रहेगा।


धनतेरस पूजा विधि

धनतेरस पर भगवान धन्वंतरि की पूजा की जाती है. भगवान धन्वंतरि समुद्र मंथन के दौरान सोने का कलश लेकर प्रकट हुए थे. ऐसे में दिवाली के दो दिन धनतेरस के दिन भगवान धन्वंतरि की षोडशोपचार विधि से पूजा करनी चाहिए. धनतेरस की शाम को घर के मुख्य द्वार, आंगन और घर के दक्षिण दिशा में दीपक जरूर जलाएं. धनतेरस के दिन यम के नाम से भी दीपक रखे जाते हैं. इस दिन पूजा करने से घर सुख-सुविधा और धन-धान्य से भरा हुआ रहता है।

धनतेरस पर क्या खरीदें और क्या नहीं

धनतेरस के दिन खरीदारी का विशेष महत्व होता है. इस दिन सोना, चांदी, पीतल की चीजें और झाड़ू खरीदना विशेष शुभ माना जाता है. हालांकि धनतेरस पर काले रंग की वस्तुएं, कांच, एल्युमीनियम और लोहे से बनी चीजें बिल्कुल नहीं खरीदनी चाहिए।


धनतेरस के दिन पीपल के पेड़ के नीचे जलाएं दीप

अगर आप धन की कमी से जूझ रहे हैं और चारों तरफ से मंदी की मार झेल रहे हैं तो आपको धनतेरस के दिन कुछ बातों को ध्‍यान में रखने की जरूरत है. अगर आप धनतेरस के दिन भगवान धनवंतरि की पूजा करते हैं और धनप्राप्ति के लिए कुछ खास जगहों पर दीप जलाते हैं तो मान्‍यता है कि मां लक्ष्‍मी प्रसन्‍न होती हैं और घर पर तुरंत धन की वर्षा होती है. मान्‍यता है कि अगर आप शुभ लग्‍न में खास जगहों पर दीपक प्रज्‍वलित करें तो जीवन में धन से आ रही परेशानी दूर होती है और सालभर पैसों से जुडी समस्‍या नहीं आती।


आइए जानते हैं धनतेरस के दिन किन जगहों पर दीप जलाना चाहिए।

धनतेरस के दिन इन जगहों पर जलाएं दीप


1.पीपल के पेड़ के नीचे

धनतेरस की शाम अगर आप एक दीप पीपल के पेड़ के नीचे जलाते हैं तो इसे शुभ माना जाता है. कहा जाता है कि पीपल के पेड़ में माता लक्ष्मी का वास होता है और अगर इस दिन पीपल के पेड़ के नीचे दीपक जलाया जाए तो सालभर धन की कमी नहीं होती।

2.बेल के पेड़ के नीचे धनतेरस की रात में बेल के पेड़ के नीचे भी दीप जलाना शुभ माना जाता है.  अगर आप इस दिन धन और सुख-समृद्धि में वृद्धि के लिए बेल के पेड़ के नीचे दीप जलाएंगे तो आपको सालभर फल मिलेगा।

3.श्‍मशान में धनतेरस की रात मान्‍यता है कि श्मशान घाट में दीपक जरूर जलाना चाहिए. ऐसा करने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और धन की समस्‍या से बचाती हैं।

4.घर की चौखट धनतेरस की शाम को घर की चौखट पर भी दीप जलाना शुभ माना जाता है. ऐसा करने से माता लक्ष्मी घर में प्रवेश करती हैं और धन की परेशानी से छुटकारा दिलाती हैं।