250 मदरसें अलर्ट पर: गृह मंत्रालय की कड़ी नजर, यहां हो सकते हैं आतंकी - Jai Bharat Express

Breaking

250 मदरसें अलर्ट पर: गृह मंत्रालय की कड़ी नजर, यहां हो सकते हैं आतंकी

लखनऊ: पिछले दिनों दिल्ली से गिरफ्तार किए गए संदिग्ध आतंकी अबू यूसूफ के बाद अब उससे जुडे़े कई राज सामने आ रहे है। अबू युसुफ का मदरसों में फैले कनेक्शन की जानकारी मिलने के बाद अब भारत-नेपाल सीमा के करीब ढ़ाई सौ मदरसों पर खुफिया एजेंसियों की कड़ी नजर है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक ये मदरसे केवल एक साल के अंदर ही खुले है और अब इन मदरसों को मिलने वाले धन के स्रोत की जानकारी हासिल की जा रही है।

बलरामपुर जिलें के उतरौला में रहने वाले अबू युसुफ का पूरा नेटवर्क नेपाल सीमा के इन मदरसों में फैला

मूलरूप से बलरामपुर जिलें के उतरौला में रहने वाले अबू युसुफ का पूरा नेटवर्क नेपाल सीमा के इन मदरसों में फैला हुआ है। बलरामपुर के साथ ही बहराइच, गोंडा, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, गोरखपुर, महराजगंज तथा लखीमपुर खीरी जिलों के मदरसे कड़ी निगरानी में है। बताया जा रहा है कि इन जिलों में बीते एक साल में ही करीब 257 नए मदरसे खुले है। इसके अलावा युसुफ का नेपाल के सप्तपरी के एक मदरआईजी बस्ती अनिल राय ने बताया कि सभी थानों को अलर्ट मोड़ में रखा गया है। सीमा की कड़ी निगरानी हो रही है। आतंकी से जुडे़ ठिकानों पर भी नजर रखी जा रही है।से से भी खास संबंध होने की जानकारी मिली है।

नेपाल के कपिलवस्तु जिला प्रशासन कार्यालय के प्रशासनिक अधिकारी मेघनाथ उपाध्याय ने कहा

नेपाल के कपिलवस्तु जिला प्रशासन कार्यालय के प्रशासनिक अधिकारी मेघनाथ उपाध्याय के मुताबिक भारतीय अधिकारियों ने अबू युसुफ के नेपाल में कनेक्शनों को तलाशने के लिए संपर्क किया था। उन्होंने कहा कि इस संबंध में जांच पड़ताल की जा रही है।
बता दे कि पिछले दिनों दिल्ली में गिरफ्तार किए गए आतंकी अबू युसुफ की गिरफ्तारी के बाद उसके बलरामपुर स्थित घर से विस्फोटक जैकेट, विस्फोटक बेल्ट और आईएसआईएस का झंडा जैसी 19 खतरनाक समान मिले थे। इस मामलें को गंभीरता से लेते हुए बलरामपुर पुलिस ने अभिसूचना संकलन में लापरवाही के आरोप में उतरौला कोतवाली के एसएचओ और बीट प्रभारी समेत पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया था।