सिवनी जिले की होटल में रुके इंदौर-पंजाब के संदिग्ध, पुलिस ने छापा मारा, मिले डेढ़ करोड़ रुपए के जेवर, नगदी - Jai Bharat Express

Breaking

सिवनी जिले की होटल में रुके इंदौर-पंजाब के संदिग्ध, पुलिस ने छापा मारा, मिले डेढ़ करोड़ रुपए के जेवर, नगदी

जबलपुर/सिवनी. मध्यप्रदेश के सिवनी जिले की होटल वीनस में देर रात पुलिस ने छापा मारकर इंदौर व पंजाब के संदिग्धों को पकड़ा है, संदिग्धों के कब्जे से पुलिस ने डेढ़ करोड़ रुपए के सोने, चांदी के जेवर, नगदी रुपए बरामद कर पूछताछ शुरु कर दी है, पुलिस को संदेह है कि पकड़े गए संदिग्ध सोने, चांदी के जेवरों की स्मलिंग करते है, जिसके संबंध में पूछताछ की जा रही है. 
इस संबंध में एसपी कुमार प्रतीक ने बताया कि नमित पिता गिरीश कश्यप उम्र 27 वर्ष, मनोज पिता भागीरथ प्रसाद गुर्जर, ललित पिता जगदीश सोलंकी निवासी इंदौर, अवतार पिता सरदार बेअंत सिंह व मनप्रीतसिंह पिता अवतार सिंह निवासी जिला तारणतर पंजाब पिछले दिन सिवनी की होटल वीनस में आकर रुक गए. होटल में रुके लोगों की गतिविधियां संदिग्ध प्रतीत होने पर तत्काल कोतवाली पुलिस को सूचना दी गई, जिसपर पुलिस की टीम ने होटल वीनस में देर रात दबिश दे दी.
पुलिस को देखते ही सभी लोगों में हड़कम्प मच गया, पुलिस ने सभी को हिरासत में लेकर कमरे की तलाशी ली तो भारी मात्रा में सोने, चांदी के जेवर व नगदी रुपया मिला. जेवर व नगदी रुपए के संबंध में पुलिस द्वारा दस्तावेज की मांग की गई लेकिन वे कोई दस्तावेज नहीं दे पाए, जिसपर पुलिस ने करीब डेढ़ करोड़ रुपए के जेवर व नगदी बरामद कर लिए. वीनस होटल में इंदौर व पंजाब के संदिग्धों के रुकने की खबर से सिवनी में चर्चाओं का माहौल व्याप्त है, मामले में पुलिस के आला अधिकारी भी नजर रखे हुए है. 
संदिग्धों के पास से मिले जेवर-
पुलिस को इंदौर व पंजाब से आए संदिग्धों के कब्जे से डेढ़ किलो सोने के जेवर, 44 किलो चांदी के जेवर व सिल्ली, 45.64 लाख रुपए नगद मिले है. इसके अलावा होटल संचालक दीपक सालुंके से पूछताछ में एक लॉकर में मिले काले बैग में रखे 540 ग्राम सोने के आभूषण और बरामद किए गए है. संदिग्धों ने पूछताछ में बताया कि उक्त जेवर अमृतसर पंजाब के व्यापारी राजेल सरदार के है. पुलिस ने मामले में आयकर विभाग को प्रतिवेदन भेज दिया है, आगे की कार्यवाही आयकर विभाग की टीम करेगी.