चीन के साथ जंग हुई तो पाकिस्तान के साथ भी लड़ना होगा युद्ध-कैप्टन अमरिंदर सिंह - Jai Bharat Express

Breaking

चीन के साथ जंग हुई तो पाकिस्तान के साथ भी लड़ना होगा युद्ध-कैप्टन अमरिंदर सिंह

नई दिल्लीः पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने चीन के साथ जंग को लेकर बड़ा बयान दिया है. गलवान घाटी में भारत-चीन सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद से ही भारत और चीन के बीच तनाव बेहद बढ़ा हुआ है और गाहे-बगाहे इस बात की चर्चा होती रहती है कि अगर चीन के साथ युद्ध हुआ तो क्या होगा. इसी सिलसिले में पंजाब के सीएम ने अब बड़ी बात कही है.

चीन के साथ जंग हुई तो पाकिस्तान से भी लड़ना होगा- अमरिंदर सिंह
एक समाचारपत्र से बात करते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि अगर चीन के साथ युद्ध हुआ तो हमें पाकिस्तान के साथ भी जंग लड़नी होगी क्योंकि वो इस लड़ाई में शामिल होगा. उन्होंने जोर देते हुए कहा कि 'मेरी बातों को याद रखिए, अगर चीन के साथ जंग हुई तो इसमें पाकिस्तान भी शामिल होगा और हमें सम्मिलित युद्ध लड़ना होगा. लिहाजा हमें अपनी सेना को और मजबूत बनाने की जरूरत है.

पहली बार नहीं आए चीन के सैनिक
कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि चीन के सैनिक कोई पहली बार गलवान में नहीं आए हैं, वो 1962 में भी आए थे लेकिन ये सच है कि उस वक्त हमारे हालात अभी के मुकाबले काफी अच्छे और बेहतर थे. इस समय गलवान में हमारी सेना की 10 ब्रिगेड की तैनाती है और ये चीन की बेवकूफी होगी अगर वो सोचता है कि वो भारत पर चढ़ाई कर सकता है. 1967 में भी खूनी झड़प और संघर्ष हुआ था जिसमें उनको सबक मिला था और अगर वो दूसरी बार कोशिश करते हैं तो फिर ऐसा ही होगा.

चीन बढ़ा रहा है अपनी ताकत
पंजाब के सीएम ने ये भी कहा कि 'चीन गतिरोध वाले इलाके में अपनी ताकत और उपस्थिति बढ़ा रहा है चाहे वो तिब्बती पठार हो या हिंद महासागर..ऐसे में हमें अपनी सेना को और मजबूत करने की जरूरत है. कैप्टन ने ये भी कहा कि चीन हिमाचल के इलाके से लेकर सिक्किम और अरुणाचल में अपनी ताकत बढ़ा रहा है और इलाकों की मांग कर रहा है. आखिर ये सब कब रुकेगा. भारत इसको सिर्फ सेना के शौर्य के दम पर ही रोक सकता है.'

सेना मजबूत हुई तो सामने वाला तीन बार सोचेगा
अमरिंदर सिंह ने इस बात पर जोर दिया कि भारत सरकार को सेना की ताकत बढ़ाने के लिए संसाधनों पर काम करना होगा. जब हम मजबूत होंगे तो दूसरे लोग कुछ करने से पहले तीन बार सोचेंगे.