JEE, NEET परीक्षा टलने की संभावना घटी, HRD मंत्रालय ने कहा कोरोना को देखते हुए कर रखी है तैयारी - Jai Bharat Express

Breaking

JEE, NEET परीक्षा टलने की संभावना घटी, HRD मंत्रालय ने कहा कोरोना को देखते हुए कर रखी है तैयारी

नई दिल्ली। JEE और NEET परीक्षा के टलने की संभावना अब न के बराबर है। परीक्षा को टालने की सिफारिशों पर HRD मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि परीक्षा टालने का आग्रह तर्कसंगत नहीं है। HRD मंत्रालय ने अपनी राय में कहा है कि छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं किया जा सकता और पूरे शैक्षणिक सत्र को बर्बाद नहीं किया जा सकता। केंद्र सरकार जेईई (मेंस) और नीट की परीक्षा स्थगित नहीं करना चाहती है सरकार के सूत्रों के अनुसार, इस बारे में सुप्रीम कोर्ट के स्पष्ट आदेश दे चुका है और नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की तरफ से तरफ से जेईई (मुख्य) के लिए एडमिट कार्ड जारी किए गए थे और परीक्षा 1 सितंबर से 6 सितंबर 2020 के लिए निर्धारित की गई थी, अब तक कुल 8,58,273 उम्मीदवारों में से 6,498.223 उम्मीदवारों ने अपने एडमिट कार्ड डाउनलोड कर लिए हैं।
कुल उम्मीदवारों में से, 99.07% उम्मीदवारों को उनकी पसंद की पहली पसंद दिया गया है। अब तक, केवल 120 उम्मीदवारों ने उन्हें आवंटित किए गए केंद्र शहरों में बदलाव के लिए अनुरोध किया है, जिस पर सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जा रहा है।इसके अलावा, उम्मीदवारों की सुविधा के लिए, COVID-19 महामारी के कारण, NTA ने अपने केंद्र शहरों को पांच बार बदलने के लिए JEE (मुख्य) के उम्मीदवारों को विकल्प प्रदान किया थे और 63931 उम्मीदवारों ने इसका लाभ उठाया, इसी तरह, NEET (UG) में उम्मीदवारों को अपने केंद्र शहरों को बदलने का विकल्प पांच बार दिया गया था, और लगभग 95,000 उम्मीदवारों ने इसका लाभ उठाया।
NEET (UG) - 2020 के लिए एडमिट कार्ड शीघ्र ही जारी होने वाले हैं और परीक्षा 13 सितंबर, 2020 को आयोजित की जाएगी, कुल 15,97,433 उम्मीदवारों में से, 99.87% उम्मीदवारों को उनकी पहली पसंद के शहरों को प्राथमिकता के आधार पर दिया जा रहा हैं, परीक्षाओं के आयोजन के पहले और बाद में केंद्रों को साफ करने के लिए विस्तृत व्यवस्था की गई है, नए दिशा-निर्देश दिए गए हैं और (मांग पर) व्यापक दिशानिर्देशों के आधार पर हाथ के दस्ताने ,COVID-19 सभी संकायों के लिए सलाह के लिए COVID के मद्देनजर केंद्र प्रबंधन के लिए दिशानिर्देश जो कि शिक्षा मंत्रालय द्वारा मानक तय किए गए हैं उसके आधार पर जारी किए गए एसओपी की तर्ज पर बनाए गए है।
NEET में पिछले साल कुल केन्द्र- 2,546 इस वर्ष कुल केन्द्र- 3,843 लगभग 50% की वृद्धि हुई है। सूत्रों के मुताबिक सरकार की तरफ से साफ कर दिया गया है कि सुप्रीम कोर्ट के विस्तृत फैसले के बाद आप जेईई मुख्य परीक्षा और नीट की परीक्षा को स्थगित नहीं किया जाएगा,