कोरोना पीड़िता से दुष्कर्म मामले में आया नया मोड़, सामने आए कई सबूत - Jai Bharat Express

Breaking

कोरोना पीड़िता से दुष्कर्म मामले में आया नया मोड़, सामने आए कई सबूत

तिरुवंतपुरम: आपराधिक मामले हमें दिन व दिन हिला देते हैं . हाल ही में केरल में एक एंबुलेंस चालक द्वारा कोविड-19 के मरीज से यौन उत्पीड़न की जांच कर रही पठानमथिट्टा पुलिस ने खुलासा किया है कि आरोपी को पकड़ने के लिए मामले में ऑडियो सबूत हैं. पठानमथिट्टा जिला पुलिस अधीक्षक केजी साइमन के मुताबिक, जिस 19 वर्षीय किशोरी के साथ मारपीट की गई, उसने इस घटना की साड़ी ऑडियों को रिकॉर्ड कर लिया, जिसके बाद पीड़िता ने उस रिकॉर्डिंग को पुलिस को सौप दिया.
नॉवल कोरोनावायरस  से पॉजिटिव पाई जाने वाली इस किशोरी का रविवार तड़के यौन उत्पीड़न किया गया, जबकि उसे अरनमुला के एक कोविड-19 अस्पताल ले जाया जा रहा था . केरल की 108 एम्बुलेंस सेवा में ड्राइवर के रूप में काम करने वाले नौफल ने किशोरी पर हमला करने से पहले सुनसान जगह पर वाहन पार्क किया . हालांकि इस अपराध के बाद नौफल को गिरफ्तार किया गया था, लेकिन पुलिस ने कहा कि उन्होंने पाया है कि ड्राइवर की आपराधिक पृष्ठभूमि थी. 2019 में उसके खिलाफ हत्या के प्रयास पर कई केस दर्ज किए गए है. इससे गंभीर सवाल खड़े हो गए हैं कि एंबुलेंस का सामान किराए पर लेते समय किस तरह से बैकग्राउंड को चेक किया जाता है. इसके अलावा कई ने सवाल उठाया है कि ड्राइवर के साथ कोई अन्य स्वास्थ्य कर्मचारी क्यों नहीं था .
"इस घटना के बाद उसने उससे कहा कि उसने जो किया वह गलत है और यह बात किसी को नहीं बताना. उसने यह रिकॉर्ड किया है. केजी साइमन ने मीडिया से कहा, हमने रात में ही सभी सबूत एकत्र कर लिए हैं . पुलिस ने यह भी कहा है कि पीड़िता की स्वास्थ्य स्थिति स्थिर थी . केरल के स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने कहा है कि आरोपी को नौकरी से बर्खास्त कर दिया जाएगा.