क्राइम ब्रांच की नकली रसायनिक खाद एवं कीटनाशक दवाईयों की फैक्ट्री पर रेड - Jai Bharat Express

Breaking

क्राइम ब्रांच की नकली रसायनिक खाद एवं कीटनाशक दवाईयों की फैक्ट्री पर रेड


 क्राइम ब्रांच की नकली रसायनिक खाद एवं कीटनाशक दवाईयों के कारखाने पर रेड


सूचना पर पुलिस अधीक्षक जबलपुर एवं कले क्टर जबलपुर भी मौके पर पहुंचे


हजारों बोरियों में नकली रसायनिक खाद तैयार करने हेतु पिसा हुआ कोयला, मार्बल पाउडर, नमक तथा रसायनिक कैमिकल हेतु हजारों डिब्बे एवं ब्रांडेड कम्पनियों के रैपर तथा बोरियाॅ गोदाम में मिले


महाकौशल क्षेत्र के कृषि केन्द्र की कई दुकानों में नकली खाद एवं कीटनाशक दवाईयाॅ की जा रही थी सप्लाई


जबलपुर : मध्य प्रदेश शासन द्वारा खाद एवं राशन की काला बाजारी, मिलावटखोरों, भू-माफियाओं/चिटफंड कंपनी के कारोबारियों एवं सूदखोरों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करने के निर्देश प्रशासन व पुलिस विभाग को दिये गये हैं।

दिये गए निर्देशों के तहत पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा के द्वारा जिले में पदस्थ समस्त राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों तथा क्राईम ब्रांच को कार्यवाही हेतु आदेशित किया गया है , आज दिनाॅक 21-12-2020 को क्राईम ब्रांच की टीम को विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि खजरी खिरिया बाईपास चौराहे के पास अमर कृषि फार्म में बने गोदाम में नकली रसायनिक खाद एवं रसायनिक कीट नाशक दवाईयों का निर्माण मयंक खत्री निवासी बी.टी. तिराहा के द्वारा किया जा रहा है।

क्राईम ब्रांच के द्वारा सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया एवं वरिष्ठ अधिकारियों के मार्ग निर्देशन मे दबिश दी गयी तो लगभग 6 हजार वर्ग फुट में निर्मित गोदाम में हजारों बोरियों में  पिसा हुआ कोयला, पिसा हुआ नमक, एवं मार्बल पाउडर, तथा अलग अलग साईज के डिब्बे, एवं राष्ट्रीय एवं बहुराष्ट्रीय कम्पनियों के    कीटनाशक दवाईयों के रैपर, एवं प्रिंटिड बोरियाॅ, पैक करने की मशीन, इलेक्ट्रानिक तराजू, आदि सामान कीमती लगभग पचासों लाख रूपये का रखा हुआ मिला, सूचना पर पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा एवं कलेक्टर जबलपुर कर्मवीर शर्मा भी तत्काल मौके पर पहुंचे, अधिकारियों के द्वारा पूरे गोदाम का बारीकी से निरीक्षण किया गया ,मौके पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण /अपराध गोपाल खाण्डेल, डिप्टी डायरैक्टर एग्रीकल्चर डाॅ. एस.के. निगम, एस.डी.एम. नमः शिवाय अरजरिया, तहसीलदार , थाना प्रभारी माढोताल, मौजूद रहे  , वणिज्य कर विभाग की एण्टी एविजन टीम तथा एग्रीकल्चर विभाग के रसायनिक विशेषज्ञ मौके पर मौजूद रहे , संयुक्त टीमों के द्वारा विस्तृत जांच की जा रही है। प्रारम्भिक जांच पर कोल डस्ट, मार्बल पाउडर, नमक एवं कलर का उपयोग कर नकली खाद एवं रसायनिक कीटनाशक दवाईयों का घोल तैयार कर नामी-गिरामी कम्पनियों के लेबिल वाली बोरियो में पैकिंग कर तथा डिब्बों में नकली तैयार किया हुआ घोल भरकर रैपर चिपका कर महाकौशल की कई कृषि की दुकानों में बेचने की बात सामने आयी है, चेरीताल स्थित महेश कृषि केंद्र जो कि मयंक खत्री का भाई महेश खत्री संचालित करता है को अभिरक्षा में लेकर महेश कृषि केन्द्र को सील किया गया है।    

 मयंक खत्री फरार हो गया था जिसको सरगर्मी से तलाश करते हुये क्राईम ब्रांच की टीम के द्वारा नरसिंहपुर में पकड़ा गया है, राॅय मटेरियल कौन सप्लाई करता था तथा नकली तैयार की हुई खाद एवं रासायनिक कीट नाशक दवाईयाॅ कहाॅ-कहाॅ सप्लाई की जाती थी, अमर कृषि फार्म जो कि लगभग डेढ़ एकड़ का है के मालिक की भूमिका की भी जांच की जा रही है।

उल्लेखनीय भूमिका - क्राइम ब्रांच के उप निरीक्षक चंद्रकांत झा, सहायक उप निरीक्षक गोपाल विश्वकर्मा, राजेश शुक्ला, आर.पी. बर्मन, प्रधान आरक्षक धनंजय सिंह, प्रमोद पाण्डे, आरक्षक अजय जैन, मानस उपाध्याय, रवि शंकर पाण्डे, अनूप सिंह, की सराहनीय एवं प्रधान आरक्षक मृदुलेश शर्मा की विशेष भूमिका रही।