30 पेटी अंग्रेजी शराब कीमती 2 लाख 31 हजार 320 रूपये की एवं जेस्ट कार जप्त - Jai Bharat Express

Breaking

30 पेटी अंग्रेजी शराब कीमती 2 लाख 31 हजार 320 रूपये की एवं जेस्ट कार जप्त


 

क्राईम ब्रांच एवं गोराबाजार पुलिस की संयुक्त कार्यवाही
अवैध शराब की तस्करी मे लिप्त 2 आरोपी गिरफ्तार,   30 पेटी अंग्रेजी शराब कीमती 2 लाख 31 हजार 320 रूपये की एवं जेस्ट  कार जप्त




जबलपुर | थाना गोराबाजार पुलिस एवं क्राईम ब्रांच की टीम को  2 आरोपी को बिना नम्बर की जैस्ट कार मे 30 पेटी अंग्रेजी शराब कीमती 2 लाख 31 हजार 320 रूपये की ले जाते हुये रंगे हाथ पकड़ने में महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त हुई है।थाना प्रभारी गोराबजार सहदेव राम साहू ने बताया कि आज दिनांक 7-1-21 को शाम लगभग 4-15 बजे विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि 2 लड़के बरगी बाइपास एकता मार्केट से होते हुये एक बिना नम्बर की जेस्ट कार सफेद रंग में अंग्रेजी शराब रखे हुये हैं जबलपुर की तरफ जा रहे हैं सूचना पर थाना गोराबाजार पुलिस एवं क्राईम ब्रांच की संयुक्त टीम द्वारा मुखबिर के बताये अनुसार गोराबजार तिलहरी मोड़ पर दबिश दी जहाॅ बिना नम्बर की जेस्ट कार एकता मार्केट तरफ से आते दिखी कार को रोकने की कोशिश की गयी कार मे 2 लड़के सवार थे जिन्होने कार नहीं रोकी और गोराबजार की तरफ भागे जिनका पीछा कर गोराबजार पहलवान बाबा के पास कार को रोका गया कार में सवार दोनों लड़कों से नाम पता पूछने पर एक ने अपना नाम सतीश अहिरवार उम्र 30 वर्ष निवासी चौधरी मौहल्ला बेलबाग एवं दूसरे ने अपना नाम मोनू उर्फ मोहन लाल बर्मन उम्र 27 वर्ष निवासी संत सिटी साई मंदिर के पास कंचनपुर अधारताल बताया,  कार की तलाशी लेने पर कार की डिक्की के अंदर तथा पीछे वाली सीट में 23 पेटी गोवा विस्की अंग्रेजी  शराब प्रत्येक पेटी में 50-50 पाव शराब , 2 पेटी में ओल्डमंक अंग्रेजी शराब प्रत्येक पेटी में 48 पाव, 2 पेटी में ओल्डमंक रम प्रत्येक पेटी में 12 बोतल, 2 पेटी मे बकार्डी ब्लैक प्रीमियम प्रत्येक में 12 बोतल, 1 पेटी मेकडाबल रम के 48 पाव रखे मिले, जिनके सम्बंध में पूछताछ करने पर कोई दस्तावेज नहीं होना बताया , कुल 30 पेटी अंग्रेजी शराब कीमती 2 लाख 31 हजार 320 रूपये एवं बिना नम्बर की जैस्ट कार सफेद रंग की जप्त करते हुये आरोपियों के विरूद्ध धारा 34(2) आबकारी एक्ट के तहत कार्यवाही की गयी।आरोपियों को शराब के साथ पकड़ने में थाना गोराबजार के उप निरीक्षक मुनीम सिंह कुलस्ते, प्रधान आरक्षक सुनील कुमार, आरक्षक रामकुमार, कमलेश यादव तथा क्राईम ब्रांच के आरक्षक नितिन मिश्रा, महेश कहार, शैलेन्द्र कौरव की सराहनीय भूमिका रही।