सागर हत्याकांड: पहलवान सुशील कुमार के चार और साथी गिरफ्तार, दावा- नीरज बवाना और काला असौड़ा गैंग के हैं गुर्गे - Jai Bharat Express

Breaking

सागर हत्याकांड: पहलवान सुशील कुमार के चार और साथी गिरफ्तार, दावा- नीरज बवाना और काला असौड़ा गैंग के हैं गुर्गे



दिल्ली पुलिस ने पहलवान सागर धनखड़ मौत के मामले में आरोपी ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार के चार साथियों को मंगलवार 25 मई की रात को गिरफ्तार कर लिया। यह चारों गैंगस्टर नीरज बवाना और काला असौड़ा गैंग के गुर्गे बताए जा रहे हैं। सभी के ख़िलाफ गैर जमानती वारंट जारी था। गिरफ्त में आए चारों आरोपियों पर संगीन धाराओं में मामले दर्ज हैं और कुछ तो जेल की हवा भी खा चुके हैं।

गिरफ्तार हुए सभी आरोपियों में सबसे उम्रदराज भूपेंद्र है। हरियाणा के झज्जर का निवासी 38 वर्षीय भूपेंद्र, राजीव काला गैंग का गुर्गा है, उस पर लूट और हत्या के 9 मामले दर्ज हैं और हाल ही में जेल से छूटा है।इसके अलावा 22 साल का मोहित भी झज्जर का ही रहने वाला है, उसके खिलाफ हत्या और लूट के 5 केस दर्ज हैं। बताया जा रहा है कि वह भी राजीव काला गैंग का मेंबर है. 24 साल का गुलाब भी झज्जर जिले का निवासी है। इस पर पहले के 2 केस दर्ज हैं, और मोहित भी राजीव काला गैंग का मेंबर है जबकि 29 साल का मंजीत रोहतक से है। मंजीत भी काला गैंग से जुड़ा है और इस पर 4 केस दर्ज हैं। उल्लेखनीय है कि हरियाणा के असौड़ा गांव के रहने वाले राजीव काला की मौत हो चुकी है। इसलिए ये सभी गैंग को खड़ा करने की कोशिश कर रहे थे।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, ये चारों सागर हत्याकांड में सुशील पहलवान के साथ थे। इन चारों ने 4 मई की रात को छत्रसाल स्टेडियम में सागर के साथ जो कुछ हुआ, किस तरीके से साजिश रची गई, किस तरीके से वारदात को अंजाम दिया गया, उसका खुलासा दिल्ली पुलिस के सामने किया है। दरअसल दिल्ली पुलिस को एक खुफिया सूचना मिली थी कि काला सौदा गैंग और नीरज बवाना गैंग के चार सदस्य सागर पहलवान की हत्या में शामिल है और यह लोग घेवरा गांव में अपने साथी काला से मिलने आने वाले हैं। इसी जानकारी के आधार पर दिल्ली पुलिस ने घेवरा रेलवे क्रॉसिंग के पास ट्रैप लगाया और इन चारों को गिरफ्तार कर लिया।

गौरतलब है कि 4 मई की रात को सागर पहलवान को दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में जमकर पीटा गया था जिसके बाद उसकी अस्पताल में मौत हो गई थी दिल्ली पुलिस ने इस मामले में सुशील पहलवान को मुख्य आरोपी बनाया है और इस वक्त सुशील पहलवान अपने साथी अजय के साथ दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की रिमांड पर है।