CBSE 12th Board Exams 2021: 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं होंगी या नहीं, राज्यों से मत मिलने के बाद इस दिन होगा फैसला - Jai Bharat Express

Breaking

CBSE 12th Board Exams 2021: 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं होंगी या नहीं, राज्यों से मत मिलने के बाद इस दिन होगा फैसला



CBSE 12th Board Exams 2021: सीबीएसई समेत अन्य राज्यों की 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाओं और प्रोफेशनल कोर्सों के लिए होने वाली प्रवेश परीक्षाओं को लेकर आज हाई-लेवल मीटिंग खत्म हो गई है. बैठक में सभी की राय ली गई हैं, सभी राज्य के मंत्री परीक्षा पर तैयार हैं. हालांकि, दिल्ली सरकार ने परीक्षा (CBSE ICSE UP Board Exam) के लिए मना नहीं किया, लेकिन वैक्सीनेशन पहले करने की मांग की है.

इस मीटिंग (Education Minister Meeting) का आयोजन रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में किया गया. इसमें रक्षा मंत्री के साथ केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी और सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर मौजूद थे. यह मीटिंग डिजिटल माध्यम से की गई. इसमें सभी राज्यों के शिक्षा मंत्रियों और शिक्षा सचिवों को भी बुलाया गया था. मीटिंग में यह तय किया गया कि सीबीएसई और राज्यों के प्रदेश शिक्षा बोर्ड के लिए समान फॉर्मूला तय किया जाएगा. ताकि देश के सभी विद्यार्थियों का फाइनल रिजल्ट एक ही स्कीम के तहत तैयार हो और किसी भी विद्यार्थी को भविष्य में इसका फायदा या नुकसान न पहुंचे. इस मीटिंग में बारहवीं बोर्ड परीक्षा आयोजित करने पर सहमति बनी है कि परीक्षा में वैकल्पिक प्रश्न पूछे जाएंगे.
हो सकती है केवल मुख्य विषयों की परीक्षा

वहीं यह अनुमान लगाया जा रहा था कि, कोरोना महामारी को मद्देनजर रखते हुए कक्षा 12वीं के केवल मुख्य विषयों की परीक्षा ही ऑफलाइन मोड में आयोजित की जा सकती है. इसके लिए बारहवीं बोर्ड परीक्षा को रद्द कर, आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर विद्यार्थियों का फाइनल रिजल्ट तैयार किया जाए. 12वीं की लंबित बोर्ड परीक्षाओं को आयोजित करने या रद्द करने की अंतिम निर्णय पर चर्चा के लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय बैठक हुई.
अन्य प्रोफेशनल एग्जाम पर फैसला

केंद्रीय शिक्षा मंत्री की इस मीटिंग को लेकर ,उम्मीद लगाई जा रही थी कि सीबीएसई, आईसीएसई और अन्य राज्यों के 12वीं बोर्ड परीक्षा के साथ NEET, JEE Main समेत अन्य परीक्षाओं पर फैसला लिया जा सकता है.
रखे गए कई प्रस्ताव

बोर्ड परीक्षाओं को आयोजित करने को लेकर कई प्रस्ताव
दूसरे प्रस्ताव में सभी विषयों की परीक्षा लेने की बात कही गई है. इसके मुताबिक 3 घंटे के पेपर में वैकल्पिक और छोटे प्रश्न पूछे जाएंगे. ताकि विद्यार्थी को प्रश्न पत्र हल करने में ज्यादा समय नहीं देना पड़े और वह जल्दी-से-जल्दी परीक्षा केंद्र से बाहर जा पाए.
मनीष सिसोदिया ने की परीक्षा रद्द करने की सिफारिश

दिल्ली के साथ ही सरकारी और निजी स्कूल प्रशासन दोनों ने गंभीर महामारी की स्थिति को देखते हुए बारहवीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा (CBSE Board Exam 2021) को रद्द करने की सिफारिश की है.