अवैध शराब के कारोबार में लिप्त 2 आरोपी गिरफ्तार, 135 लीटर कच्ची शराब जप्त - Jai Bharat Express

Breaking

अवैध शराब के कारोबार में लिप्त 2 आरोपी गिरफ्तार, 135 लीटर कच्ची शराब जप्त




थाना ग्वारीघाट एवं मझगवाॅ की टीम को 2 आरोपियों को 135 लीटर अवैध कच्ची शराब के साथ रंगे हाथ पकड़ने में सफलता प्राप्त हुई है।

जबलपुर |दो अलग-अलग थाना क्षेत्रों में पुलिस ने कच्ची जहरीली शराब की तस्करी करने वाले आरोपियों को धर दबोचा है।इस संबंध में थाना प्रभारी ग्वारीघाट विजय कुमार परस्ते ने बताया कि दिनांक 23-7-21 की रात विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि बागड़ा दफाई काली मंदिर मंच के पास संदीप पटैल नामक व्यक्ति जो वहीं पर रहता है मंदिर के मंच के पीछे बोरियों में अधिक मात्रा में कच्ची शराब बेचने के लिये रखा हुआ हैं। सूचना पर मुखबिर के बताये स्थान पर दबिस दी गयी जहाँ एक व्यक्ति पुलिस को देखकर भागने का प्रयास करने लगा, जिसे घेराबंदी कर पकड़ा गया और नाम पता पूछने पर युवक ने अपना नाम संदीप पटेल उम्र 40 वर्ष निवासी बागड़ा दफाई काली मंदिर के पास ग्वारीघाट बताया, जो मंदिर के पीछे 2 प्लास्टिक की बोरियों में एक-एक लीटर वाले पाउच में 75 लीटर कच्ची शराब रखे हुए मिला, जिसे जप्त करते हुये आरोपी संदीप पटैल के  विरूद्ध धारा 34(2) आबकारी एक्ट के तहत कार्यवाही करते हुये उक्त शराब कहाॅ से और कैसे प्राप्त की कि सम्बंध में पूछताछ जारी है।


उल्लेखनीय भूमिका - आरोपी को अवैध कच्ची शराब के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार करने  में सहायक उप निरीक्षक रणजीत सिंह आरक्षक राजेन्द्र धुर्वे, महिला आरक्षक राजनीता की सराहनीय भूमिका रही।


2 -- थाना प्रभारी मझगवां अन्नीलाल सैयाम ने बताया दिनांक 23-7-21 की रात में विश्वनीय मुखबिर से सूचना मिली कि बाईपास रोड आंनद माईंस के पास ग्राम प्रतापपुर में एक व्यक्ति कच्ची शराब बेचने के लिये बैठा है, सूचना पर मुखबिर के बताये स्थान पर दबिस दी गयी, बाईपास मेन रोड आनंद माईंस के पास ग्राम प्रतापपुर में एक व्यक्ति 4 प्लास्टिक के गुम्मा लिये खड़ा दिखाई दिया, जिसे घेराबंदी कर पकड़ा गया नाम और पता पूछने पर अपना नाम अशोक कोल उम्र 27 वर्ष निवासी ग्राम प्रतापपुर बताया, जो 4 गुम्मों में 60 लीटर कच्ची शराब रखे हुए, मिला जिसे जप्त करते हुये आरोपी के विरूद्ध धारा 34(2) आबकारी एक्ट के तहत कार्यवाही की गयी।


उल्लेखनीय भूमिका - आरोपी को अवैध कच्ची शराब के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार करने में उप निरीक्षक कप्तान सिंह उइके, सहायक उप निरीक्षक जयराम सैयाम, प्रधान आरक्षक भैयालाल वर्मा, आरक्षक देवराज की सराहनीय भूमिका रही।