हमारी असावधानी कोरोना की तीसरी लहर को निमंत्रण देगी बोले शिवराज देखें VIDEO - Jai Bharat Express

Breaking

हमारी असावधानी कोरोना की तीसरी लहर को निमंत्रण देगी बोले शिवराज देखें VIDEO


हमारी असावधानी कोरोना की तीसरी लहर को निमंत्रण देगी: मुख्यमंत्री श्री चौहान

प्रदेशवासी करें कोरोना अनुकूल व्यवहार का पालन

दुनिया के अनेक देशों में COVID19 के मामले बढ़ रहे हैं, यह चिंता का विषय है। हमारे देश के विभिन्न राज्यों के कई जिलों में पॉजिटिविटी दर 10% से कम नहीं है। इसका मतलब साफ है कि वायरस अभी है, प्रदेशवासियों से अपील है कि वे सावधानी का पालन करें और मास्क लगाना न भूलें।


भोपाल |मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि न केवल हमारे देश में अपितु दुनिया के कई देशों में कोविड के प्रकरण बढ़ना चिंता का विषय है। ब्रिटेन में तीन महीने के लॉकडाउन के बाद 55 हजार केस आये हैं। दुनिया के अन्य देशों में भी कोरोना के प्रकरण तेजी से बढ़ रहे हैं। देश में भी कई जिलों में पॉजिटिविटी दर दस प्रतिशत से कम नहीं हुई है। अत: यह स्पष्ट है कि वायरस अभी मौजूद है। दक्षिण और उत्तरपूर्व के राज्यों में पॉजिटिव प्रकरण तेजी से आ रहे हैं। कई जगह प्रकरण प्रतिदिन बढ़ रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेशवासियों से मेरी अपील है कि कोरोना से निश्चिंत न हों। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज स्मार्ट सिटी पार्क में पौध-रोपण के बाद उक्त बात कही।


78 हजार टेस्ट में 18 आये पॉजिटिव

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कल प्रदेश में 78 हजार टेस्ट किये गये, जिनमें से 18 पॉजिटिव आये। परसों जो टेस्ट किये गये उसमें 11 पाजिटिव आये थे। अत: यह स्पष्ट है कि प्रदेश में वायरस है। पॉजिटिव लगातार आ रहे हैं। अगर हम असावधान रहे तो यह तीसरी लहर को निमंत्रण देने के समान होगा।


तीसरी लहर के लिए तैयारियाँ जारी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने के हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। प्रदेश में अधिकतम टेस्ट करने, पॉजिटिव आये व्यक्तियों की कांटेक्ट ट्रेसिंग कर उन्हें आइसोलेशन में रखने का कार्य जारी है। प्रदेश में टीकाकरण का अभियान भी लगातार चल रहा है। कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिए अस्पतालों में आवश्यक व्यवस्था स्थापित करने के लिए भी राज्य सरकार सक्रिय है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि तीसरी लहर से बचाव का सबसे प्रभावी उपाय कोरोना अनुकूल व्यवहार का पालन  करना है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी, विश्व स्वास्थ्य संगठन और स्वास्थ्य विभाग भी बार-बार कोरोना अनुकूल व्यवहार के पालन का आग्रह कर रहा है। प्रदेशवासियों से इसके प्रति गंभीर रहने की अपील है।