हिंदुओं ने किया पलायन का ऐलान गृहमंत्री बोले सुराना को नहीं बनने देंगे कैराना - Jai Bharat Express

Breaking

हिंदुओं ने किया पलायन का ऐलान गृहमंत्री बोले सुराना को नहीं बनने देंगे कैराना


गांव के कई हिंदू परिवारों ने घरों के बाहर लिखवाया मकान बिकाऊ है। गांव से हिंदुओं ने किया पलायन का ऐलान।


गृहमंत्री बोले - सुराना को नहीं बनने देंगे कैराना।


Ratlam के सुराणा गाँव में हिंदुओं के पलायन का मामला संज्ञान में आया है जो कि चिंता का विषय है।पीड़ितों की सुरक्षा के लिए जिला प्रशासन से बात करूंगा।MadhyaPradesh शांति का टापू है, और कोई भी भय का वातावरण नहीं फैला सकता है।

👇 VIDEO 




भोपाल |मध्यप्रदेश के रतलाम जिले के सुराना गांव में हिंदू आबादी ने मुस्लिमों समुदाय पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए सामूहिक पलायन की धमकी दी,हालांकि मामला संज्ञान में आते ही रतलाम से लेकर राजधानी भोपाल तक हड़कंप मच गया, गृहमंत्री ने स्थानीय प्रशासन की टीम को गांव में भेजा और रिपोर्ट मांगी,इसके बाद गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने चेतावनी दी है कि सुराना को एमपी का कैराना (उत्तर प्रदेश) नहीं बनने देंगे।

दरअसल, मंगलवार को सुराना गांव में मुस्लिमों की प्रताड़ना से तंग होकर हिंदुओं ने गांव छोड़ने की चेतावनी दी थी, गांव के हिंदू परिवारों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा था, जिसमें कहा गया था कि वह दुखी हैं, उनको अपनी जन्मभूमि छोड़ने को मजबूर किया जा रहा है, हिंदू परिवारों का कहना था कि दो पक्षों के बीच विवाद इतना बढ़ गया कि परेशान होकर गांव छोड़ने की नौबत आ गई है, इसलिए सभी हिंदू परिवार सामूहिक पलायन करेंगे। 

यही नहीं, गांव के कई हिंदू परिवारों ने अपने घरों के बाहर मकान बिकाऊ है,तक लिखवा दिया था। मामला संज्ञान में आते ही गृहमंत्री के निर्देश पर बुधवार को कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम और एसपी गौरव तिवारी सहित अन्य प्रशासनिक अमला सुराना गांव पहुंचा और लोगों को समझाइश दी।

सुराना को कैराना नहीं बनने देंगे गृहमंत्री


मध्य प्रदेश गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने आश्वासन दिया कि किसी को भी डरने की जरूरत नहीं है। हिंदुओं को अपने घर से कोई नहीं निकाल सकता है, क्योंकि मध्य प्रदेश में भाजपा की सरकार है। किसी भी कीमत पर सुराना को कैराना नहीं बनने देंगे, विवाद की वजह अवैध अतिक्रमण और अन्य स्थानीय छोटे मसले हैं, जिनका शीघ्र निराकरण कर लिया जाएगा. विवाद के शांतिपूर्ण समाधान के लिए एक समिति का गठन कर दिया गया है।

गांव में बनाई अस्थाई पुलिस चौकी

गृहमंत्री ने कहा कि पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों से इस बारे में चर्चा की है. सुराणा मामले पर बनी समिति में SDM और SDOP के साथ ही दोनों पक्षों के दो-दो प्रतिनिधियों को शामिल किया गया है। फिलहाल सुराना में अस्थाई पुलिस चौकी बना दी है, और एक सब-इंस्पेक्टर समेत 10 पुलिसकर्मियों को वहां पर तैनात कर दिया गया है। वहीं, स्थानीय प्रशासन को असामाजिक तत्वों के खिलाफ जिलाबदर और रासुका के तहत कार्रवाई के आदेश दे दिए गए हैं।