मिलावट से मुक्ति अभियान जांच के दौरान बर्फ की फैक्ट्री को आगामी आदेश तक किया सील - Jai Bharat Express

Breaking

मिलावट से मुक्ति अभियान जांच के दौरान बर्फ की फैक्ट्री को आगामी आदेश तक किया सील

खाद्य सुरक्षा अधिकारियों ने पुलिस के साथ कि बर्फ फेक्ट्री की जांच,अखाद्य बर्फ में नीले रंग का इस्तेमाल न करने पर फैक्ट्री सील





जबलपुर |मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत कलेक्टर डॉ इलैयाराजा टी के निर्देशानुसार खाद्य सुरक्षा अधिकारियों एवं पुलिस की टीम ने आज गुरुवार को चौथा मील मंडला रोड तिलहरी स्थित एवरेस्ट आइस फैक्ट्री की आकस्मिक जाँच की,खाद्य सुरक्षा अधिकारी देवकी सोनवानी के अनुसार जांच के दौरान आइस फैक्ट्री में सफेद रंग की अखाद्य बर्फ पाये जाने पर तथा इसके क्रय-विक्रय एवं वितरण संबंधी कोई दस्तावेज ना होने के कारण खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम के उपबंधो का उल्लंघन का प्रकरण दर्ज किया गया। उन्होंने बताया कि एवरेस्ट आइस फैक्ट्री को आगामी आदेश तक सील कर दिया गया है।




खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि खाद्य (खाने योग्य बर्फ) बर्फ मानक अनुसार सफेद रंग की होना चाहिए। जबकि अखाद्य बर्फ का रंग नीला होना चाहिये। खाने योग्य बर्फ के निर्माण के लिए एफएसएसएआई लाइसेंस एवं पानी की एनएबीएल लैब से जांच रिपोर्ट आदि विभिन्न दस्तावेज आवश्यक है। उन्होंने बताया कि खाद्य सुरक्षा अधिकारियों की टीम ने आज बाई का बगीचा स्थित नोमी डेरी का भी निरीक्षण किया तथा दूध का नमूना लिया गया।

आज की गई कार्यवाहियों में खाद्य सुरक्षा अधिकारी विनोद धुर्वे, मुकुंद झारिया, सारिका दीक्षित एवं माधुरी मिश्रा शामिल थे।