VIDEO - लिफ्ट हादसे में बाल बाल बचे पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ। - Jai Bharat Express

Breaking

VIDEO - लिफ्ट हादसे में बाल बाल बचे पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ।

 


लिफ्ट हादसे में बाल बाल बचे पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ।

 इंदौर के एक अस्‍पताल में लिफ्ट गिरने के हादसे में  कमलनाथ बाल बाल बच गए लेकिन घबराहट की वजह से उनकी तबीयत बिगड़ गई, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उनका हाल जाना और साथ साथ कलेक्‍टर को इस पूरे घटना की जांच के आदेश दिए। काफी मशक्‍कत के बाद लिफ्ट का गेट खोला गया।

 मध्‍य प्रदेश के इंदौर के एक निजी अस्पताल में लिफ्ट गिरने के हादसे में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ बाल बाल बच गए लेकिन घबराहट की वजह से उनकी तबीयत बिगड़ गई और फिर उनका अस्पताल में ही ब्लड प्रेशर चेक कराया गया इसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने फोन कर उनकी सेहत के बारे में जानकारी ली इसके साथ ही CM ने इंदौर के कलेक्टर को पूरे मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। कमलनाथ इंदौर के एक निजी अस्पताल में उस वक्त बाल-बाल बच गए थे जब वह लिफ्ट में मौजूद थे और लिफ्ट अचानक से 10 फीट ऊंचाई से नीचे गिर पड़ी थी। हालांकि लिफ्ट गिरने की एक वजह ओवरलोड होना भी बताया गया है।

कमलनाथ इंदौर के डीएनएस अस्पताल में भर्ती कांग्रेस नेता रामेश्वर पटेल को देखने पहुंचे थे। इस दौरान उनके साथ कांग्रेस के अन्य नेता भी लिफ्ट में ऊपर जाने के लिए सवार हो गए और इसी बीच लिफ्ट अचानक 10 फीट नीचे गिर गयी। और दरवाजा लॉक हो गया, करीब 10 मिनट बाद बमुश्किल औजार ढूंढ कर लिफ्ट का लॉक खोला गया इस दौरान कमलनाथ के साथ पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा, जीतू पटवारी, विधायक विशाल पटेल के अलावा कई नेताओं समेत सुरक्षाकर्मी शामिल थे। कमलनाथ सहित सभी सुरक्षित हैं और किसी को भी कोई चोट नहीं आयी है, लेकिन कांग्रेस का कहना है कि यह सुरक्षा में बड़ी चूक और लापरवाही है। इसके लिए जिम्मेदार लोगों पर कड़ी कार्रवाई होना चाहिए, वहीं, कांग्रेस नेताओं ने अस्पताल प्रबंधन पर भी इस मामले में कार्रवाई की मांग की है।


प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के मीडिया कोर्डीनेटर नरेंद्र सलूजा ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज इंदौर के डीएनएस अस्पताल में वरिष्ठ कांग्रेस नेता रामेश्वर पटेल की तबीयत देखने पहुंचे थे। वे लिफ्ट में सवार हुए थे कि इसी समय लिफ्ट अचानक 10 फीट नीचे गिर गई और लिफ्ट में धूल-धुंए भर गया, इस हादसे में कोई घायल नहीं हुआ है।

शिवराज ने दिए मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

इस अस्पताल का निर्माण अभी-अभी हुआ है, इसलिए लिफ्ट भी ज्यादा पुरानी नहीं थी लेकिन यह सुरक्षा में बड़ी चूक है, सीएम शिवराज सिंह चौहान ने फोन कर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ से बात की और घटना की जांच के आदेश इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह को दिए हैं, मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद कलेक्टर ने तत्काल डीएनएस हास्पिटल में लिफ्ट की खराबी और दुर्घटना की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए हैं, कलेक्टर ने एडीएम मुख्यालय हिमांशु चंद्र को जांच के लिए आदेशित किया है।