कोर्ट के बाहर वकील साहब को दना दन मारी गई गोली - Jai Bharat Express

Breaking

कोर्ट के बाहर वकील साहब को दना दन मारी गई गोली

 


कोर्ट के बाहर वकील साहब को दना दन मारी गई गोली  स्कूटी पर सवार होकर आये थे बदमाश जानकारी के अनुसार 6 माह पहले रेत के वर्चस्व में वकील के पिता ने की थी युवक की हत्या



स्कूटी सवार 2 बदमाशों ने घटना को दिया अंजाम 1 संदेही हिरासत में


सिहोरा कोर्ट के सामने 22 मार्च की शाम सोमवार को  सरेआम दो बदमाशों ने वकील को गोली मार दी, गोली पेट में लगी है। वकील साहब को सिहोरा से जबलपुर अस्पताल रैफर किया गया, विश्वस्त सूत्रो के अनुसार एडवोकेट  सूर्यभान सिंह के पिता उजियार सिंह ने 30 सितंबर 2020 को गनियारी निवासी विकास सिंह की हत्या कर दी थी, रेत के वर्चस्व को लेकर उसी हत्याकांड में उसे भी आरोपी बनाया गया था, पर बाद में पुलिस जांच में उनका नाम हटा दिया गया था, इसी मामले में सूर्यभान कोर्ट में पैरवी करने सिहोरा गये थे,

कटंगी क्षेत्र के गनियारी निवासी उजियार सिंह का बेटा सूर्यभान सिंह उम्र  32 वर्ष पेशे से वकील है। सोमवार को वह सिहोरा सिविल कोर्ट में अपना नाम हत्या के मामले में न जोड़ने के लिए पैरवी करने गये थे। वहां से शाम करीब 5:30 बजे निकल कर पुराने बंद हो चुके गेट के सामने पहुंचे तभी स्कूटी सवार दो नकाबपोश पहुंचे और सूर्यभान पर दना दन गोली चला दी। गोली सूर्यभान के पेट में लगी और वह मौके पर ही गिर गये। इसी बीच बदमाश स्कूटी लेकर फरार हो गए।

सूत्रों के अनुसार विकास सिंह मर्डर केस में पुलिस द्वारा सूर्यभान का नाम हटा दिया गया था, इसे विकास के परिजनों ने कोर्ट में चुनौती दी है। कोर्ट से सूर्यभान का नाम फिर से जोड़ने की अपील की गई थी, इसी मामले की सुनवाई सिविल कोर्ट सिहोरा में थी, सूर्यभान सिंह वकीलों के साथ अपना पक्ष रखने गये थे। बाहर निकलते ही उन पर बदमाशों ने गोली चला दी,

खून से लथपथ सूर्यभान को साथी वकील सिहोरा सिविल अस्पताल लेकर पहुंचे। वहां डॉक्टरों ने गंभीर हालत देख और गोली फंसी होने के चलते सूर्यभान को रैफर कर दिया। उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहां सूर्यभान का ऑपरेशन कर गोली निकाली गई। उनकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। मौके पर एएसपी शिवेश सिंह बघेल समेत पुलिस अधिकारी पहुंचे, पुलिस ने मामले में एक संदेही को हिरासत में ले लिया है। और पूछताछ कर रही है ।

जिला अधिवक्ता संघ जबलपुर के सचिव राजेश तिवारी के अनुसार वकील सूर्यभान सिंह को सिहोरा न्यायालय गेट पर गोली मारी गई, जो उसके पेट में लगी है। उन्हे तत्काल वहां से मेट्रो हॉस्पिटल जबलपुर में भर्ती कराया गया। अस्पताल में उनका ऑपरेशन कर गोली निकाल दी गई है। उनकी हालत अब ठीक है । जिला अधिवक्ता संघ जबलपुर इस कायरतापूर्ण गोली कांड की निंदा करता है। और 23 मार्च मंगलवार को सभी अधिवक्ता न्यायिक कार्य से विरत रहेंगे। सिहोरा अधिवक्ता संघ भी न्यायिक कार्य से विरत रहेगा और दोषियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपा जाएगा।