क्या लौंग, कपूर और अजवायन सूंघने से बढ़ता है ऑक्सीजन लेवल, क्या कहते हैं डॉक्टर जानिये इस मैसज की सच्चाई - Jai Bharat Express

Breaking

क्या लौंग, कपूर और अजवायन सूंघने से बढ़ता है ऑक्सीजन लेवल, क्या कहते हैं डॉक्टर जानिये इस मैसज की सच्चाई


क्या लौंग, कपूर और अजवायन सूंघने से बढ़ता है ऑक्सीजन लेवल, क्या कहते हैं डॉक्टर जानिये इस मैसज की सच्चाई 

अजवायन, कपूर, लौंग और नीलगिरी का मिश्रण बंद नाक को खोलने में मददगार है। इस मिश्रण की पोटली को सूंघने से बंद नाक खुल जाते हैं।



कोरोना महामारी के बीच सोशल मीडिया पर एक मैसेज बहुत ही तेजी से वायरल हो रहा है ,जिसमें दावा किया जा रहा है कि कपूर, लौंग और अजवाइन का मिश्रण में नीलगिरी के तेल मिलाकर पोटली बनाकर सूंघने से ऑक्सीजन लेवल बढ़ता है। हैरान करने वाली बात यह है कि इस वायरल मैसेज को केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने भी अपने फेसबुक वॉल पर शेयर किया है। उसके बाद कई अन्य लोग भी इस मैसेज को खूब शेयर कर रहे हैं, लेकिन क्या इसमें कोई सच्चाई है भी या नहीं, आइए जानते हैं।



मुख्तार अब्बास नकवी ने क्या पोस्ट किया।
मुख्तार अब्बास नकवी ने फेसबुक पर सेहत की पोटली कैप्शन के साथ एक फोटो शेयर की है जिसमें एक पोटली में लौंग, अजवायन और तीन पोटलियां दिख रही हैं। साथ में एक खुली पोटली दिख रही है जिसमें लौंग और अजवायन दिखाई दे रहे हैं।

 

मैसेज में क्या है दावा
वायरल मैसेज में दावा किया जा रहा है, 'कपूर, लौंग, अजवाईन, कुछ बूंदे नीलगिरी के तेल की पोटली बनाएं और इसे दिन और रात भर सूंघते रहें। ऑक्सीजन के स्तर को बढ़ाने में मदद करता है। यह पोटली लद्दाख में पर्यटकों को तब दी जाती है जब ऑक्सीजन का स्तर कम होता है। यह एक घरेलू उपाय है...कृपया शेयर करें। इस मैसेज को कई अन्य यूजर ने भी ट्विटर, फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर किया है।
 
आइये जानते है दावे की सच्चाई क्या है।
इस संबंध में चिकित्सक अनूप पी से बात की गयी तो डॉक्टर अनूप ने बताया कि यह दावा सही है। अजवायन, कपूर, लौंग और नीलगिरी का मिश्रण बंद नाक को खोलने में सहायक है। इस मिश्रण की पोटली को सूंघने से बंद नाक खुल जाते हैं। फेफड़ों की जकड़न कम होती है और ऑक्सीजन लेवल में भी सुधार होता है। 

हमारी पड़ताल में मुख्तार अब्बास नकवी और अन्य यूजर्स द्वारा सोशल मीडिया पर किया जाने वाला यह दावा सही निकला है।