कोरोना को हराने के लिए पीएम मोदी ने 'मिशन बंगाल' को किया दरकिनार, रद्द कीं रैलियां - Jai Bharat Express

Breaking

कोरोना को हराने के लिए पीएम मोदी ने 'मिशन बंगाल' को किया दरकिनार, रद्द कीं रैलियां



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को अपना प्रस्तावित पश्चिम बंगाल दौरा रद्द कर दिया क्योंकि कोविड-19 की वर्तमान स्थिति की समीक्षा के लिए वह एक उच्च स्तरीय बैठक करेंगे। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, 'कोविड-19 की मौजूदा स्थिति के लिए मैं कल एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता करूंगा। इसकी वजह से मैं पश्चिम बंगाल नहीं जा सकूंगा।'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को पश्चिम बंगाल में चार रैलियों को संबोधित करने वाले थे। ये चार रैलियां, मुर्शिदाबाद, मालदा, बीरभूम और कोलकाता दक्षिण में थीं। रैलियां के लिए पूरी तैयारी कर ली गई थी। इसके बाद प्रधानमंत्री का पश्चिम बंगाल में कोई चुनावी कार्यक्रम तय नहीं है। ऐसे में समझा रहा है कि अब वह राज्य में चुनाव प्रचार नहीं करेंगे। भाजपा ने इससे पहले घोषणा की थी कि वह कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर पश्चिम बंगाल में छोटी-छोटी रैलियां करेगी जिसमें 500 से अधिक लोग शामिल नहीं होंगे।

इसके बाद तय हुआ था कि प्रधानमंत्री शनिवार की प्रस्तावित रैलियों की जगह सिर्फ शुक्रवार को ही चुनावी कार्यक्रम करेंगे। बता दें कि कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के बावजूद रैलियां करने को लेकर भाजपा और प्रधानमंत्री विपक्षी दलों के निशाने पर हैं। पीएम मोदी कल सुबह 9 बजे इंटरनल बैठक में कोरोना संबंधित स्थितियों की समीक्षा करेंगे। इसके बाद सुबह 10 बजे वो उन राज्य के मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठक करेंगे जो कोरोना की चपेट में ज्यादा है। इसके बाद दोपहर 12.30 बजे वो देश के ऑक्सीजन निर्माताओं के साथ बैठक करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में ऑक्सीजन की उपलब्धता और इसकी आपूर्ति को लेकर गुरुवार को एक उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की और इस दौरान ऑक्सीजन की उपलब्धता बढ़ाए जाने के रास्तों और विकल्पों पर चर्चा की। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) से जारी एक बयान के मुताबिक इस बैठक में प्रधानमंत्री ने ऑक्सीजन का उत्पादन बढ़ाने, उसके वितरण की गति तेज करने और स्वास्थ्य सुविधाओं तक उसकी पहुंच सुनिश्चित करने के लिए तेज गति से काम करने की आवश्यकता पर बल दिया। इस दौरान अधिकारियों ने पिछले कुछ सप्ताहों में ऑक्सीन की आपूर्ति बेहतर करने की दिशा में उठाए गए कदमों से प्रधानमंत्री को अवगत कराया।