इस राज्य में वैक्सीन की सबसे ज्यादा बर्बादी? , भिड़ गईं दो सरकारें - Jai Bharat Express

Breaking

इस राज्य में वैक्सीन की सबसे ज्यादा बर्बादी? , भिड़ गईं दो सरकारें



कोरोना से बचाव के लिए वैक्‍सीजन डोज की कमी को लेकर केंद्र और राज्‍य में तनातनी के बीच वैक्‍सीन की बर्बादी को लेकर मोदी सरकार और हेमन्‍त सरकार के बीच भिड़ंत हो गई है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने आंकड़े जारी कर कहा है कि देश में सर्वाधिक झारखण्‍ड में 37 प्रतिशत वैक्‍सीन की बर्बादी हुई है। मुख्‍यमंत्री हेमन्‍त सोरेन ने इसे गलतबयानी करार दिया है, कहा है कि झारखण्‍ड में सिर्फ 4.6 प्रतिशत डोज की बर्बाद हुए हैं। हेमन्‍त सोरेन ने ट्विट कर कहा है कि अपनी हताशा में भाजपा रोज नया शिगूफा छोड़ती है। आज उन्‍होंने कहा है कि हमने 37 प्रतिशत वैक्‍सीन बर्बाद कर दी। यह आंकड़ा न सिर्फ सिर्फ भ्रामक बल्कि हास्‍यास्‍पद भी है।

केंद्र से प्राप्‍त 48, 63, 660 वैक्‍सीन में भारत सरकार के ही आंकड़ों के हिसाब से 40 लाख 12 हजार 269 झारखंडियों को लग चुकी है जो कोविन एप का डाटा एवं प्राप्‍त होने वाले सर्टिफिकेट से आसानी से क्रॉस चेक किया जा सकता है। पर झारखंडियों को बदनाम करने की खातिर स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कह दिया कि 37 प्रतिशत वैक्‍सीन बर्बाद। 48 लाख का 37 प्रतिशत का मतलब 18 प्रतिशत के लगभग होता है। अगर इतना बर्बाद हुआ तो फिर कैसे हमने 40,12,269 वैक्‍सीन लगा दी। हमारी यहां वैक्‍सीन वेस्‍टेज 4.65 प्रतिशत है जो राष्‍ट्रीय औसत 6.3 प्रतिशत से कम है। बिहार के पूर्व उपमुख्‍यमंत्री सांसद सुशील मोदी ने भी इस मसले पर हेमन्‍त सरकार की खिंचाई करते हुए ट्विट किया कि प्रधानमंत्री की वीडियो कांफ्रेंसिंग के बाद अमर्यादित टिप्‍पणी की थी वहां आज वैक्‍सीन की बर्बादी सबसे ज्‍यादा 37.3 प्रतिशत हो रही है झारखण्‍ड में हर तीसरी वैक्‍सीन किसी के काम आने के बदले बर्बाद हो रही है।

दरअसल केंद्र सरकार ने वैक्‍सीन की बर्बादी का आंकड़ा जारी कर कहा है कि देश में सर्वाधिक झारखण्‍ड में 37 प्रतिशत वैक्‍सीन की बर्बादी हुई है। राज्‍य के विकास आयुक्‍त सह अपर मुख्‍य सचिव स्‍वास्‍थ्‍य ने आपनी आपत्ति के साथ केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय को पत्र भेजकर आंकड़े सुधारने को कहा है। इस पर भाजपा और झामुमो के बीच सोशल मीडिया पर युद्ध छिड़ा रहा। राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री बन्‍ना गुप्‍ता ने जिलावार वैक्‍सीनेशन का आंकड़ा जारी करते हुए कहा कि फर्जी आंकड़े जारी करने का मकसद क्‍या है। इसके पहले भाजपा के प्रदेश अध्‍यक्ष दीपक प्रकाश और भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने झारखण्‍ड में 37 प्रतिशत वैक्‍सीन बर्बाद होने पर हेमन्‍त सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह देश में सर्वाधिक बर्बादी है। इसके लिए जिम्‍मेदार कौन है। काउंटर करते हुए भाजपा महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि भाजपा भ्रम फैलाने और दुष्‍प्रचार से बाज आये नहीं तो आपदा प्रबंधन कानून के तहत कार्रवाई के लिए सरकार और झामुमो को मजबूर होना पड़ेगा।