एक्ट्रेस Yuvika Chaudhary के खिलाफ एससी-एसटी एक्‍ट के तहत FIR - Jai Bharat Express

Breaking

एक्ट्रेस Yuvika Chaudhary के खिलाफ एससी-एसटी एक्‍ट के तहत FIR



चंडीगढ़। पुलिस ने अनुसूचित जाति (scheduled caste) के लिए अपमानजनक टिप्पणी करने के मामले में बिग बॉस(Big Boss) में नजर आईं टीवी एक्ट्रेस(TV actress) युविका चौधरी (Yuvika Chaudhary) के खिलाफ अनुसूचित जाति व जनजाति अत्याचार अधिनियम (Scheduled Caste and Tribe Atrocities Act)के तहत मुकदमा दर्ज किया है. ये FIR हांसी के एडवोकेट रजत कल्सन की शिकायत के आधार पर दर्ज की गई है. इससे पहले ऐसा ही एक मामला तारक मेहता फेम एक्ट्रेस मुनमुन दत्ता (TV actress Munmun Dutta) को लेकर भी सामने आया था और अब युविका चौधरी (Yuvika Chaudhary) की भी मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं.

एडवोकेट रजत कल्सन ने हांसी के पुलिस अधीक्षक नितिका गहलोत को दी शिकायत में कहा कि युविका चौधरी ने एक वीडियो जारी किया था जिसमें उसने अनुसूचित जनजाति के लिए अपमानजनक शब्द कहे और गलत टिप्पणी की है. एडवोकेट ने इस मामले में वीडियो के फुटेज सीडी के माध्यम से दिए थे. हांसी पुलिस की साइबर सेल की टीम ने जांच के बाद अभिनेत्री युविका चौधरी (Yuvika Chaudhary) के खिलाफ अनुसूचित जनजाति अधिनियम की धारा 3 (1)(यू) के तहत एफआईआर दर्ज की है जो की गैर जमानती है.
बता दें कि एडवोकेट रजत कल्सन इससे पूर्व, क्रिकेटर युवराज सिंह और टीवी सीरियल तारक मेहता का उल्टा चश्मा की अभिनेत्री बबीता जी और मुनमुन दता के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज करा चुके हैं. दोनों मामलो में अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

अधिवक्ता रजत कल्सन ने बताया कि युविका चौधरी ने एक वीडियो जारी किया जिसमें उन्होंने अनुसूचित जाति समाज के लिए अभ्रद्र टिप्पणी की थी. वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है और लोग युविका के इस स्टेटमेंट का खूब विरोध कर रहे हैं. सोशल मीडिया पर लगातार उन्हें ट्रोल किया जा रहा है. अब देखने वाली बात ये होगी कि मामला आगे कितना खिंचता है. हालांकि युविका चौधरी को जब इस बात का एहसास हुआ तो उन्होंने इंस्टाग्राम पर वीडियो शेयर कर सभी से हाथ जोड़कर माफी मांगी और साथ ही कहा कि अनजाने में उनके मुंह से एक शब्द निकल गया जिसका उन्हें अफसोस है.