शिक्षक की हुई अंधी हत्या का पुलिस ने किया खुलाशा रस्सी व गमछा से गला घोंटकर की गयी थी हत्या - Jai Bharat Express

Breaking

शिक्षक की हुई अंधी हत्या का पुलिस ने किया खुलाशा रस्सी व गमछा से गला घोंटकर की गयी थी हत्या


थाना सिहोरा अंतर्गत शिक्षक की हुई अंधी हत्या का 24 घंटे के भीतर खुलासा।


पुराने उड़द के रूपयों के लेन देन को लेकर, रस्सी व गमछा से गला घोंटकर हत्या कर शव को बोरी में लपेटकर खाई में फेंकने वाले महिला सहित चारों आरोपी गिरफ्तार।


गिरफ्तार आरोपी -

1-बबलू पटेल पिता रामकुमार उम्र 36 वर्ष निवासी लखनपुर सिहोरा,

2- सचिन बर्मन पिता हल्कू बर्मन उम्र 18 वर्ष निवासी रिवझा सिहोरा

3- पवन कुमार चौधरी पिता धनीराम चौधरी उम्र 24 वर्ष निवासी ग्राम मटका शहपुरा जिला डिण्डोरी

4- श्रीमति सुनीता बांधवे (चौधरी ) पति भारत बांधवे (चौधरी ) निवासी ग्राम मटका शहपुरा जिला डिण्डेारी



जबलपुर
|शिक्षक की हुई अंधी हत्या का पुलिस ने किया खुलाशा रस्सी व गमछा से गला घोंटकर की गयी थी हत्या इस संबंध में पुलिस ने बताया कि थाना सिहोरा में दिनाॅक 24-7-21 को दोपहर 1 बजे शिव पटेल उम्र 35 वर्ष निवासी जय भवानी कालोनी खितौला ने सूचना दी थी कि दिनाॅक 24-7-21 की सुबह 9-30 बजे उसकी मौसी मंजू ने फोन पर बताया कि मौसिया मेम्बर पटेल दिनाॅक 23-7-21 को सुबह 9 बजे ग्राम लखनपुर खेती के काम पर जाने को कहकर घर से निकले थे, जो घर वापस नहीं आये हैं, मौसिया मेम्बर पटेल उम्र 60 वर्ष निवासी लखनपुर सिहोरा जो ग्राम रिठौरी गोसलपुर में शिक्षक है, की तलाश  आसपास एंव रिश्तेदारी मे किया कुछ पता नहीं चल रहा है। सूचना पर गुमइंसान क्रमांक 48/21 कायम कर जांच में लिया गया।

जाँच के दौरान तलाश पतासाजी के मझगवा थाना क्षेत्र कि अगरिया ग्राम के नहर के पास बरनी के पुल के पास गुमशुदा का बैग मिलने पर नहर की सर्चिंग गोताखोरो से करायी गयी, परन्तु पानी अधिक होने से कुछ नही मिला, आसपास पतासाजी करने पर ज्ञात हुआ कि गुमशुदा मेम्बर पटैल को लखनपुर ग्राम में बबलू पटैल के साथ देखा गया था।

सरगर्मी से तलाश कर संदेही बबलू उर्फ बल्लू पटेल को अभिरक्षा मे लेकर पूछताछ करने पर बबलू पटेल ने बताया कि दिनांक 23-07-2021 को दोपहर लगभग 1 बजे ग्राम लखनपुर स्थित उसके गैरिज में खेती के काम को लेकर मेम्बर पटेल आये थे, तब उसने मेम्बर पटेल से पुराने उड़द के रुपये मांगा तो मेम्बर पटेल रूपये देने से इंकार करते हुये  विवाद करने लगा तो उसने अपने साथी पवन एवं सच्चु बर्मन के साथ मिलकर मेम्बर पटैल को जान से खत्म करने के लिये श्रीमति सुनीता को गैरिज के बाहर देखने के लिये खड़ा कर दिया,एवं उसने पवन से मेम्बर पटेल के गले में रस्सी बांधने को बोला तो पवन ने मेम्बर पटेल के गले में रस्सी बांधा तथा सच्चु ने अंदर से दरवाजा बंद कर दिया, और मेम्बर पटेल के गले में गमछा जोर से बांधा, उसने मेम्बर के पैर पकड़ लिये इस प्रकार हम तीनों ने मिलकर रस्सी व गमछा से गला घोटकर मेम्बर पटैल की हत्या कर दी, फिर उसने पवन को बोला कि तुम मेम्बर पटैल की मोटर सायकल, बैग तथा मोबाइल लेकर अगरिया नहर बरनी पुल पहुंचो, पवन के जाने के बाद उसने तथा सच्चु बर्मन ने  मिलकर मेम्बर के शव को गैरिज में रखी बोरी से लपेटकर बांध दिये थे, तथा शव को अंदर वाले कमरे में रख दिये, गैरिज के बाहर सुनीता को छोड़ दिये थे, फिर वह तथा सच्चू, पवन की मोटर सायकिल में अगरिया के लिये रवाना हुये मोटर सायकिल सच्चू चला रहा था, वह पीछे बैठा था ग्राम घाट सिमरिया होते हुये अगरिया पहुंचे और हम तीनो ने मिलकर मेम्बर पटैल के बैग व मोबाइल को नहर के उस पार एवं मोटर सायकल को नहर में फेक दिये, नहर में काफी पानी भरा हुआ था, फिर हम तीनो पवन की मोटर सायकिल में अगरिया नहर से ग्राम टिकरिया गोसलपुर होते हुये लखनपुर पहुचे, दोपहर लगभग 3 बजे सच्चू से गैरिज के सामने ट्रेक्टर ट्राली लगवाकर उसने एवं पवन, सच्चू तथा सुनीता ने मिलकर मेम्बर पटेल के बोरी मे बंधे शव को उठाकर ट्राली में रखा फिर सुनीता को वहीं गैरिज में छोड़कर वह एवं पवन, तथा सच्चू तीनों ग्राम लखनपुर, से बघेली, मुरैठ होते हुये ट्रेक्टर ट्राली में मझौली इन्द्रांना रोड मन का धाम घाटी के किनारे पहुंचे तथा खाई में मेम्बर पटैल के शव को फेंक दिये।


घटित हुई घटना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया, सूचना पर पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा के निर्देश पर एस.डी.ओ.पी. सिहोरा श्रुत कीर्ति सोमवंशी एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण शिवेश सिंह बघेल मौके पर पहुंचे , बबलू पटेल के बताये स्थान पर जाकर तलाश करने पर इन्द्रांना से मझौली रोड आने जाने वाले मार्ग के पास मन का धाम (लाल घटिया) मे रोड के नीचे ढलान में बोरी मे बंधा हुआ एक 60-65 वर्षिय वृद्ध का शव मिला, गुमशुदा के परिजनो ने शव की शिनाख्त गुमशुदा मेम्बर पटैल के रूप में की।


वरिष्ठ अधिकारियों एवं एफ.एस.एल. की डाॅ. सुनीता तिवारी की उपस्थति में पंचनामा कार्यवाही कर शव को पीएम हेतु भिजवाते हुये बबलू पटेल पवन चौधरी, श्रीमति सुनीता तथा सच्चू बर्मन के विरूद्ध धारा 342,302,201,34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध करते हुये आरोपी पवन चौधरी,  सुनीता तथा सच्चू बर्मन को लखनपुर सिहोरा से अभिरक्षा में लेते हुये आरोपियों की निशादेही पर नहर से गुमशुदा मेम्बर पटेल कि मोटर सायकल हीरो स्पेलेण्डर बिना नम्बर की नहर के पास से गुमशुदा का एक बैंग जिसमें पासबुक, आधारकार्ड एवं मोबाईल था तथा घटना में प्रयुक्त एक मोटर सायकिल एच.एफ. डीलेक्स बिना नम्बर की, एक ट्रेक्टर ट्राली नीले रंग का बिना नम्बर का जप्त करते हुये चारों आरोपियों को प्रकरण में विधिवत गिरफ्तार कर मान्नीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है।