फर्जी आईडी पर परीक्षा केन्द्र में काम करने वालो के विरूद्ध धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज - Jai Bharat Express

Breaking

फर्जी आईडी पर परीक्षा केन्द्र में काम करने वालो के विरूद्ध धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज

फर्जी आईडी पर परीक्षा केन्द्र में काम करने वालों के विरूद्ध धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज, चारों आरोपी पुलिस गिरफ्त में।


जबलपुर
| फर्जी आईडी पर परीक्षा केन्द्र में काम करने वालों के विरूद्ध धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज करते हुए पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इस संबंध में पुलिस ने बताया कि थाना तिलवारा में दिनांक  16-7-21 की रात लगभग 8-30 बजे शरद पाल उम्र 32 वर्ष निवासी घमापुर पानी की टंकी के पास सिद्धबाबा ने रिपेार्ट दर्ज करायी कि वह जेबीएम आनलाईन सोल्यूशन सेन्टर प्रभारी है, दिनांक 12-7-21 से 18-7-21 में आयोजित एयरफोर्स रिक्रूटमेंट परीक्षा सरस्वती इंजीनियरिंग एवं टेक्नोलाजी कालेज मे होना था। Orlando कम्पनी के द्वारा जेबीएम आनलाईन सोल्यूशन को एयरफोर्स की परीक्षा पारदर्शी तरीके से कराने का कांटेक्ट दिया गया है। एयरफोर्स की परीक्षा सम्पन्न कराने के लिये उसके साथी जयप्रकाश यादव की पहचान के जितेन्द्र सिंह जाट निवासी मथुरा से होने से परीक्षा में व्यवस्था हेतु प्राईवेट लड़कों की मांग की गयी थी, जितेन्द्र सिंह द्वारा भूपेन्द्र , सोहन सिंह, धीरेन्द्र प्रताप सिंह, को अपने साथ लाकर परीक्षा सेंटर में काम पर लगाया गया था, एयरफोर्स की परीक्षा में वैरीफिकेशन हेतु सभी कर्मचारियों से पहचान पत्र मांगा गया था, जितेन्द्र सिंह के द्वारा इन लोगों के आधारकार्ड परीक्षा के संबंध मे दिये गये थे, भूपेन्द्र सिंह एंव सोहन सिंह रजिस्ट्रशेन मैनेजर तथा जितेंद्र सिंह टीसीए जेएम-1, धीरेन्द्र प्रताप सिंह को टीसीए जेएम-2 बनाया गया था, दिनांक  12-7-21 को धीरेन्द्र प्रताप सिंह, जितेन्द्र सिंह जाट से आईडी मांगी गयी थी,  जो दिनांक  13-7-21 को आधारकार्ड की छायाप्रति तथा फोटो दिये थे, आधारकार्ड में Orlando कम्पनी के द्वारा इनकी आईडी मिसमैच होना पाई गयी, इनके द्वारा दिये गये आधारकार्ड की छायाप्रति की जांच करने पर फर्जी नाम पता एंव फोटो तथा जानकारी पाई गयी, जितेन्द्र सिंह, भूपेन्द्र सिंह, सोहन सिंह, धीरेन्द्र प्रताप सिंह द्वारा फर्जी तरीके से एयरफोर्स की परीक्षा में धोखाधड़ी करने के संबंध मे आधारकार्ड की फर्जी आईडी बनवाकर परीक्षा केन्द्र में काम पर लगाया था, जिनके द्वारा परीक्षा के दौरान किसी भी प्रकार की गड़बड़ी एवं धोखाधड़ी की जा सकती थी। रिपोर्ट पर धारा 420, 468, 471 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

           

पुलिस ने आरोपी जितेन्द्र सिंह जाट पिता गोपाल सिंह उम्र 27 वर्ष , भूपेन्द्र सिंह पिता बृजेन्द्र सिंह उम्र 25 वर्ष , सोहन सिंह पिता बृजेन्द्र सिंह उम्र 27 वर्ष तीनों निवासी ग्राम नगला रोका पोस्ट पचवार महावन मथुरा, धीरेन्द्र प्रताप सिंह पिता सूरपत सिंह उम्र 28 वर्ष निवासी ग्राम सराय महेश थाना पट्टी जिला प्रतापगढ़ उत्तर प्रदेश को अभिरक्षा मे लेते हुये विवेचना में लिया गया।

उल्लेखनीय भूमिका - आरोपियो को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी तिलवारा गणेश तोमर , प्रधान आरक्षक श्रीकांत मिश्रा, आरक्षक हर राजपूत तथा क्राईम ब्रांच के सहायक उप निरीक्षक अजय पाण्डे, प्रधान आरक्षक ब्रम्हप्रकाश, महेन्द्र पटेल, आरक्षक ज्ञानेन्द्र पाठक,खुमान पटेल, शैलेन्द्र कौरव की सराहनीय भूमिका रही।