ढाबा संचालक ढाबे में अपने दो साथियो के साथ बड़े पैमाने पर कर रहा था सट्टे का कारोबार पुलिस ने दबोचा - Jai Bharat Express

Breaking

ढाबा संचालक ढाबे में अपने दो साथियो के साथ बड़े पैमाने पर कर रहा था सट्टे का कारोबार पुलिस ने दबोचा



2 साथियों के साथ सट्टा लिखते मनकेडी स्थित अन्नपूर्णा ढाबा का संचालक रंगे हाथ पकड़ा गया नगद 23 हजार 200 रूपये, 5 मोबाईल, 2 कैल्कुलेटर, 3 रजिस्टर जिसमें लाखों का हिसाब, किताब लिखा है जप्त।


क्राईम ब्रांच एवं थाना बेलखेड़ा की टीम द्वारा मनकेडी स्थित अन्नपूर्णा ढाबा मे दबिश देते हुये ढाबा संचालक राहुल पटेल एवं उसके 2 साथियों को रंगे हाथ मोबाईल के माध्यम से सट्टा लिखते हुये पकड़ा गया है, कब्जे से नगद 23 हजार 200 रूपये , 5 मोबाईल, 2 कैल्कुलेटर, 3 रजिस्टर जिसमें लाखों का हिसाब, किताब लिखा है जप्त किया गया है।


जबलपुर |ढाबा संचालक ढाबे में अपने दो साथियो के साथ बड़े पैमाने पर कर रहा था सट्टे का कारोबार पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर आरोपी को धर दबोचा इस संबंध में थाना प्रभारी बेलखेड़ा विजय अम्भोरे ने बताया कि आज दिनॉक 17-8-21 को क्राईम ब्राचं को विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि थाना बेलखेडा अंतर्गत अन्नपूर्णा ढाबा का संचालक राहुल पटेल ढाबे में अपने दो साथियो के साथ मोबाईल के माध्यम से बड़े पैमाने पर सट्टा लिख रहा है। सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराते हुये वरिष्ठ अधिकारियो के निर्देशन मे क्राईम ब्रांच एवं थाना बेलखेड़ा पुलिस के द्वारा योजनाबद्ध तरीके से अन्नपूर्णा ढाबे में तत्काल दबिश दी गयी, ढाबे के अंदर, ढाबा संचालक राहुल पटेल उम्र 26 वर्ष अपने दो साथी दीपक पटेल उम्र 29 वर्ष, अशोक पटेल उम्र 45 वर्ष सभी निवासी ग्राम मनकेडी बेलखेड़ा के मोबाईल के माध्यम से बातचीत करते हुये रजिस्टर मे सट्टा के अंक एवं रूपये लिखते हुये रंगे हाथ मिले, तीनों के कब्जे से नगद 23 हजार 200 रूपये 5 मोबाईल, 2 कैल्कुलेटर, 3 रजिस्टर जिसमे लाखों का हिसाब किताब लिखा है जप्त करते हुये तीनों सटोरियों के विरूद्ध थाना बेलखेडा मे 4 क जुआ एक्ट के तहत कार्यवाही की जा रही है।


उल्लेखनीय भूमिका - सटोरियों को सट्टा लिखते हुये रंगे हाथ पकडने में क्राईम ब्रांच के सहायक उप निरीक्षक अजय पाण्डे, प्रधान आरक्षक महेन्द्र पटेल, ब्राम्ह प्रकाश, आरक्षक ज्ञानेन्द्र पाठक, शैलेन्द्र कौरव, खुमान पटेल एवं थाना बेलखेडा के उप निरीक्षक राजेन्द्र बागरी, आरक्षक मनोहर, गौरव लोधी की सराहनीय भूमिका रही।