जबलपुर: वैक्सीनेशन सेंटर्स विक्टोरिया हॉस्पिटल में CMHO ने लगवाया BJP का हेल्प डेस्क......लोकल चुनाव में मदद का आरोप - Jai Bharat Express

Breaking

जबलपुर: वैक्सीनेशन सेंटर्स विक्टोरिया हॉस्पिटल में CMHO ने लगवाया BJP का हेल्प डेस्क......लोकल चुनाव में मदद का आरोप



जबलपुर में विक्टोरिया हॉस्पिटल CMHO पर लग रहा लोकल बॉडी चुनाव (स्थानीय निकाय चुनाव) में भाजपा की मदद करने का आरोप पढ़ें पूरी 

पहले भी कोरोना वायरस से संबंधित गलत जानकारी उपलब्ध कराने के आरोप में जबलपुर के CMHO डॉ मनीष कुमार मिश्रा को पद से हटा गया था... पर राजनीतिक संबंधो के चलते ये पुनः अपने पद पर वापिस आ गए थे और अपने पद पर वापिस आने की कीमत सत्ता पक्ष को चुनावी फायदा पंहुचा कर चुका रहे है , ऐसा सूत्रों का कहना है। 


Mdhya Pradesh News : देशभर में कोरोना महामारी के खिलाफ वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) कार्यक्रम चल रहा है। जबलपुर में भी विभिन्न वैक्सीनेशन सेंटर्स (Vaccination Centers) पर वैक्सीन लगाने का काम चल रहा है,  वैक्सीनेशन सेंटर के बाहर बीजेपी मे हेल्प डेस्क लगाया है, अब इस मामले पर राजनीति गरमा गई है कांग्रेस ने बीजेपी के हेल्प डेस्क लगाने के मामले पर आपत्ति जताते हुए कहा कि निकाय चुनाव से पहले सरकारी कार्यक्रम का इस तरह राजनीतिक फायदा उठाने का अधिकार किसी भी पार्टी को नहीं है वहीं बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सांसद राकेश सिंह ने कहा कि कांग्रेस के मूल में राजनीति है ये पहल आम आदमी की सुविधा को ध्यान में रखकर शुरू की गई है हमारा मकसद राजनीति करना नहीं है।

बीजेपी ने कहा कि आम लोगों को कोरोना टीकाकरण कराने में कुछ सामान्य सी दिक्कतें आ रही थी,  इसलिए आम लोगों की मदद के लिए हर वैक्सीनेशन सेंटर के बाहर अपना एक बूथ लगाना शुरू कर दिया है बीजेपी इसे हेल्प डेस्क नाम दे रही है शनिवार को जबलपुर के सांसद राकेश सिंह ने विक्टोरिया अस्ताल का दौरा किया और हेल्प डेस्क की शुरुआत की. बीजेपी का तर्क है कि बूथ के माध्यम से वह लोगों को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करना है।
कांग्रेस का आरोप है कि बीजेपी निकाय चुनाव (MP Local Body Election) से पहले वैक्सीनेशन के बहाने मतदाताओं को लुभाना की कोशिश कर रही है  बीजेपी पर निशाना साधते हुए कांग्रेस नेताओं ने कहा कि सत्ताधारी पार्टी को मुफ्त वैक्सीन के नाम पर सियासी फायदा लेना बंद कर देना चाहिए भाजपा लंबे समय से सत्ता का दुरुपयोग करती आ रही है और शासकीय संपत्ति में अपने झंडे लगाकर आम जनता को सहयोग के नाम पर बरगलाने का प्रयास कर रही है।