किशोर वाधवानी गुटखा कारोबारी पर कानूनीशिकंजा - Jai Bharat Express

Breaking

किशोर वाधवानी गुटखा कारोबारी पर कानूनीशिकंजा



 वाधवानी समेत 5 पर अप्राकृतिक कृत्य का केस दर्ज; पीड़िता से कहा बच्चे के भविष्य की सोचो, सेठ तुम्हें 75 हजार सैलरी देंगे


गुटका मशीनों के साथ किशोर वाधवानी

करोड़ों रुपए की टैक्स चोरी के आरोपी गुटखा कारोबारी किशोर वाधवानी पर एक महिला ने अप्राकृतिक कृत्य का केस दर्ज कराया है। आरोपियों ने महिला को दुष्कर्म के केस में समझौते के लिए इंदौर बुलाया था। फिलहाल महिला की शिकायत पर विजय नगर पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर पूरे मामले में जांच शुरू कर दी है।

महिला ने पिछले दिनों विजयनगर पुलिस को आवेदन दिया था। महिला ने शिकायत की थी कि भोपाल में उसने किशोर वाधवानी पर दुष्कर्म सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज करवाया था। उसी प्रकरण में समझौते के लिए महिला को इंदौर की वाव होटल में उसे समझौते के लिए बुलाया गया था। इसी दौरान किशोर वाधवानी, कर्मचारी वैभव शर्मा, मनोहर राजपूत, केपी सिंह एवं अजय सिसोदिया ने उसे कोल्ड ड्रिंक में कुछ मिला कर पिला दिया। इसके कारण वह बेहोश हो गई। फिर उसके साथ अप्राकृतिक कृत्य किया। पुलिस ने किशोर वाधवानी सहित उसके चार कर्मचारियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है।

यह प्रकरण दर्ज हुए है -

4 अप्रैल 2018 को वाधवानी के मीडिया संस्था के भोपाल ऑफिस में कार्यरत 24 साल की युवती ने एमपी नगर थाने में IPC की धारा 377, 506, 34 के तहत केस दर्ज करवाया था। युवती ने FIR में बताया था कि वाधवानी ने उसके साथ अप्राकृतिक कृत्य किया है। FIR दर्ज होने के 22 दिन बाद 26 अप्रैल 2018 को पुलिस ने मामले में खारिजी काट दी।
4 अगस्त 2018 को मीडिया संस्था भोपाल में कार्यरत एक अन्य 23 साल की युवती ने किशोर वाधवानी पर IPC की धारा 294 के तहत एमपी नगर थाने में प्रकरण दर्ज कराया था। मामले में पुलिस ने 23 दिसंबर 2018 को खारिजी काट दी। गौरतलब है कि सार्वजनिक स्थल पर अश्लील टिप्पणी करने पर धारा 294 लगाई जाती है। पीड़िता ने पुलिस से वाधवानी द्वारा छेड़छाड़ किए जाने की बात भी कही थी। लेकिन पुलिस ने इसका उल्लेख FIR में नहीं किया।
अप्रैल 2019 को न्यूज टीवी भोपाल में कार्यरत एक महिला कर्मचारी ने वाधवानी के खिलाफ कार्यस्थल पर प्रताड़ित किए जाने का मामला महिला थाने में दर्ज कराया था। मामले में पुलिस का कहना है कि कोर्ट में चालान पेश किया जा चुका है।
किशोर वाधवानी द्वारा मात्र एक साल में ही 512 करोड़ रुपए की कर चोरी को अंजाम दिया गया था। DGGI की टीम द्वारा पान मसाले में 242 करोड़ और सिगरेट में 270 करोड़ की टैक्स चोरी का खुलासा किया गया था। यह कर चोरी अप्रैल 2019 से मई 2020 तक की थी।