फरार कुख्यात शातिर बदमाश को पुलिस ने धर दबोचा मुखबिर ने दी सटीक जानकारी - Jai Bharat Express

Breaking

फरार कुख्यात शातिर बदमाश को पुलिस ने धर दबोचा मुखबिर ने दी सटीक जानकारी

 


क्राइम ब्रांच एवं थाना ग्वारीघाट पुलिस की कार्यवाही


 थाना ग्वारीघाट, ओमती एवं मदनमहल अंतर्गत प्राणघातक हमला करने वाला फरार शातिर बदमाश 7 हजार रूपये का ईनामी बदमाश निखिल नायडू गिरफ्तार



जबलपुर
| थाना ग्वारीघाट में दिनांक 20-1-21 की दोपहर लगभग 3-45 बजे अभिषेक मेहरा उम्र 26 वर्ष निवासी बजार पेेट्रोल पम्प के पास सीओडी चौक रांझी ने रिपोर्ट दर्ज करायी  थी कि वह बैंक में काम करता है, उसका छोटा भाई कल्याण मेहरा ग्वारीघाट मेन रोड फुटपाथ महल केैफे के नाम से दुकान चलाता है आज वह दुकान पर भाई से मिलने गया था। और दुकान के बाहर खड़ा था दोपहर लगभग 1-30 बजे 2 मोटर सायकिलों पर लकी ठाकुर, आदेश जाट, निखिल नायडू  एक अन्य लड़के के साथ आये, उसके भाई कल्याण का नाम लेकर पूछने लगे, उसके भाई कल्याण का विवाद लकी ठाकुर, आदेश जाट से स्विफ्ट गाड़ी खरीदने के पैसों के लेन देन को लेकर चल रहा है उसी बात को लेकर  सभी लोग गाली गलौज करने लगे, उसने दुकान के अंदर खड़े अर्थव राजपूत को गाली देने से मना किया तो आदेश जाट गाली गलौज कर कहने लगा कि जान से खत्म कर दों उसी समय लकी ठाकुर ने अपनी जेब से चाकू निकाल कर अर्थव राजपूत की हत्या करने की नियत से चाकू से हमला कर अर्थव राजपूत की वायीं जांघ में चोट पहुँचा दी, वह एवं अंशु गुजराल बचाने दौडे़ तो सभी लोग जान से मारने की धमकी देते हुये भाग गये। अर्थव को उपचार हेतु परिजन अस्पताल लेकर गये हैं रिपोर्ट पर धारा 307,294,506, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गयां।

 पुलिस टीम द्वारा सरगर्मी से तलाश करते हुये आरोपी आदेश जाट उम्र 27 वर्ष एवं लकी उर्फ जय कुमार ठाकुर उम्र 22 वर्ष दोनों निवासी कंजड मोहल्ला आकांक्षा अस्पताल के पास बेलबाग को अभिरक्षा मे लेते हुये लकी से चाकू जप्त करते  हुये फरार निखिल नायडू एवं एक अन्य आरोपी की गिरफ्तारी हेतु स्म्भावित स्थानों पर दबिश दी जा रही थी, आरोपियों के पकड़े न जाने पर पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा द्वारा आरोपियों की गिरफ्तारी पर 5 हजार रूपये का ईनाम उद्घोषित किया गया था।आज दिनाॅक 19-3-21 की देर रात क्राईम ब्रांच को विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि हत्या के प्रयास के प्रकरण में फरार आरोपी निखिल नायडू बुलेट क्रमांक एमपी 20 एनपी 3777 से कुछ देर में ही ग्वारीघाट जायेगा।  सूचना पर क्राईम ब्रांच एवं थाना ग्वारीघाट की संयुक्त टीम द्वारा बादशाह हलवाई मंदिर के पास घेराबंदी की गयी, कुछ ही देर बाद बताये हुये बुलेट नम्बर पर आ रहे युवक को घेराबंदी कर पकड़ा गया जिसने पूछताछ पर अपना नाम निखिल नायडू उर्फ अन्ना पिता कृष्ण मूर्ति नायडू उम्र 25 वर्ष निवासी शुक्ला नगर एकता चौक राॅयल जिम के पास मदनमहल बताया निखिल नायडू को अभिरक्षा में लेते हुये थाना ग्वारीघाट के प्रकरण में विधिवत गिरफ्तार करते हुये मान्नीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि पकड़ा गया शातिर बदमाश निखिल नायडू थाना ओमती के अपराध क्रमांक 20/2020 धारा 147,148,149,307 भादवि के प्रकरण एवं थाना मदनमहल के प्रकरण क्रमांक 227/2020 धारा 147, 148, 294, 307, 506, 394 भादवि के प्रकरण में भी फरार था।


थाना ओमती अंतर्गत दिनाॅक 9-1-2020 को सरूज सिंह उम्र 18 वर्ष निवासी गणेश नगर गढ़ा पर पुराने विवाद पर कामरान अली, सोहेल दाता, लकी मिश्रा, निखिल नायडू, रवि सोंधिया ने बलवा कर हाथ मुक्को से मारपीट करते हुये चाकू से हमला कर प्राणघातक चोटे पहुंचायी थी,  कामरान अली, सोहेल दाता, लकी मिश्रा, रवि सोंधिया को गिरफ्तार कर लिया गया था आरोपी निखिल नायडू, फरार था, जिसकी गिरफ्तारी पर पुलिस अधीक्षक जबलपुर  सिद्धार्थ बहुगुणा द्वारा 2 हजार रूपये का ईनाम उद्घोषित किया गया था।वहीं थाना मदनमहल अंतर्गत दिनांक 27-07-2020 केा  मुकेश पटैल उम्र 20 वर्ष निवासी मेहता पेट्रोल पम्प यादव कालोनी  एवं लक्की पटेल पर बलवा करते हुये दुर्गेश पाण्डे, लक्की मिश्रा, शोभित सिंह उर्फ टोला, जीत चतुर्वेदी, पियूष सोनी, निखिल नायडू एवं एक अन्य ने तलवार, चाकू से हमला कर प्राणघातक चोटें पहुंचाई थी तथा मोटर सायकिल भी लेकर भाग गये थे।  

थाना ओमती एवं मदनमहल के प्रकरण में भी निखिल नायडू फरार था उपरोक्त दोनों थानों के द्वारा लंबित प्रकरणो में निखिल नायडू की गिरफ्तारी की जा रही है। 


उल्लेखनीय भूमिका - फरार ईनामी बदमाश को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी ग्वारीघाट  विजय कुमार परस्ते के मार्ग निर्देशन में क्राईम ब्रांच के सहायक उप निरीक्षक धनंजय सिंह, विजय शुक्ला, प्रघान आरक्षक बृजेंद्र कसाना, दीपक तिवारी,  आरक्षक बीरबल, मोहित उपाध्याय, नितिन मिश्रा, नीरज तिवारी, अमित श्रीवास्तव थाना ग्वारीघाट के उप निरीक्षक देवी सिंह ठाकुर, आरक्षक राजेश, तरूण, राकेश की सराहनीय भूमिका रही।