कोरोना केस में लगातार कमी, परन्तु इन 6 राज्यों में अभी भी सबसे ज्यादे मौत : स्वास्थ्य मंत्रालय - Jai Bharat Express

Breaking

कोरोना केस में लगातार कमी, परन्तु इन 6 राज्यों में अभी भी सबसे ज्यादे मौत : स्वास्थ्य मंत्रालय



दिल्ली : देश में कोरोना का कहर लगातार जारी है. वैसे अब नए कोरोना के केसो में कुछ कमी देखने को मिल रही है. कोरोना के प्रतिदिन आने वाले केस में लगातार कमी देखने को मिल रही है. वैसे देशभर में मौत के आंकड़ो की स्थिति   चिंतनीय बनी हुई है. कोरोना वायरस का कहर घटता जा रहा है. संक्रमण की रफ्तार कम भले ही हो गई है, मगर महामारी की चपेट में आए मरीज बड़ी संख्या में अपनी जान गवां रहे हैं. देश में कोरोना के हालातों पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस कांफ्रेंस कर जानकारी दी. स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता लव अग्रवाल ने कहा कि देश में 20 दिनों से कोरोना के केस में लगातार कमी आ रही है. देश में 3 मई को सबसे जयादा केस थे।
स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता लव अग्रवाल ने कहा कि पिछले 20 दिनों से हर दिन आने वाले कोरोना के केस में लगातार कमी आ रही है. देश में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले 3 मई को था. उन्होंने बताया कि अभी तक कुल 2.3 करोड़ लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं. उन्होंने बताया की देश के 22 राज्यों में नये केस से ज्यादा ठीक होने वालो की संख्या है. आज जितने कोरोना के नए केस आये हैं उससे 1 लाख अधिक करोना मरीज़ ठीक हुए है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता लव अग्रवाल ने बताया कि देश के सिर्फ 7 राज्यों में 10 हज़ार प्रतिदिन से ज्यादा केस आ रहें है. देश में बीते चार दिनों से 20 लाख से अधिक टेस्ट देश में किये गए हैं. देश के 8 राज्यों में 1 लाख से अधिक एक्टिव केस आए है. वहीं बीते 14 दिनों में देश के 468 जिलों में 100 से अधिक केस प्रतिदिन आये हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि केवल 7 राज्य हैं जहां 10,000 से अधिक मामलों कोरोना के आ रहे हैं. इसके अलावे देश में 6 ऐसे राज्य हैं जहां कोरोना के 5,000 से 10,000 मामलों प्रतिदिन आ रहे हैं. उन्होंने बताया कि देश के इन 6 राज्य - महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, यूपी, पंजाब और दिल्ली में सबसे ज्यादा मौतें हो रही हैं. वहीं 93 से अधिक जिले ऐसे हैं जहां मामले घटते जा रहे हैं.

लव अग्रवाल ने बताया कि एम्फोटेरिसिन बी देश में सीमित मात्रा में उपलब्ध था. अब इसकी उपलब्धता और आपूर्ति अब बढ़ाई जा रही है और इसके लिए 5 अतिरिक्त निर्माताओं को लाइसेंस प्रदान करने के लिए फार्मा मंत्रालय स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ समन्वय कर रहा है. ​शनिवार को आए नए मामलों के साथ अब देश में कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 2,62,89,290 हो गई है।