पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा परिणाम में लगे धांधली के आरोप गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दी सफाई देखिए - Jai Bharat Express

Breaking

पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा परिणाम में लगे धांधली के आरोप गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दी सफाई देखिए



एमपी पुलिस 6000 कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का रिजल्ट गुरुवार 17 मार्च 2022 को जारी कर दिया गया था।



रिजल्ट में डिस्क्वॉलीफाइ हुए अभ्यर्थियों ने एमपी पुलिस में रिजल्ट घोटाले का आरोप लगाया है।



अभ्यर्थियों ने बताया कि उन्हें ऑनलाइन रिजल्ट में क्वालिफाई दिखाया गया लेकिन बाद में नॉट क्वालिफाई दिखा दिया।



पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा परिणाम में लगे धांधली के आरोप गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दी सफाई देखिए 👇




भोपाल |पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा परिणाम में धांधली के आरोप लगाए गए है।जिस पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सफाई दी है।मध्य प्रदेश प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड द्वारा घोषित किए गए पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा-2020  के परिणाम में धांधली के आरोपों पर मंगलवार को गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सफाई देते हुए कहा कि पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का रिजल्ट एक ही बार आया है। रिजल्ट पूरी तरह स्पष्ट है। परिणाम में पहले और बाद की बात न करें,अगर इसमें किसी ने कूट रचित किया है तो उसकी जानकारी दें। कल मुझसे अभ्यर्थियों ने मुलाकात की थी। इस विषय में अभ्यर्थियों की शिकायत के बाद मैप आईटी के सहयोग से पूरे मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। मैंने एमपीपीईबी से सबसे बड़े अधिकारी से बात कर ली थी। 


आपको बता दें कि एमपी पुलिस 6000 कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का रिजल्ट गुरुवार 17 मार्च 2022 को जारी कर दिया गया था। रिजल्ट में डिस्क्वॉलीफाइ हुए अभ्यर्थियों ने एमपी पुलिस में रिजल्ट घोटाले का आरोप लगाया है। पुलिस भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी के आरोप लगाते हुए कुछ अभ्यर्थियों ने बताया कि उन्हें ऑनलाइन रिजल्ट में क्वालिफाई दिखाया गया लेकिन बाद में नॉट क्वालिफाई दिखा दिया। 



कुछ अभ्यर्थियों का कहना है कि आंसर की के हिसाब से उनका स्कोर काफी अच्छा होना चाहिए था। वहीं एक अभ्यर्थी ने बताया कि परीक्षा में यदि दो भाइयों ने भाग लिया जिनमें एक का स्कोर 62 और दूसरे का स्कोर 72 है तो 62 स्कोर वाले को क्वॉलीफाई किया गया है जबकि 72 स्कोर वाले को डिस्क्वॉलीफाई किया गया है। अभ्यर्थियों ने आरोप लगाया है सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों के रिजल्ट में ज्यादा गड़बड़ी  है।